उद्धव ठाकरे ने पीएम मोदी से मांगी मदद, सीएम पद से इस्तीफे को लेकर…

Maharashtra CM Uddhav Thackeray

maharashtra political crisis

दिल्ली. महाराष्ट्र के सीएम उद्दव ठाकरे ने पीएम नरेंद्र मोदी को फोन करके मदद मांगी है। उन्होंने पीएम से फोन कर कहा आप मदद कीजिए वरना मुझे इस्तीफा देना पड़ेगा। दरअसल भारतीय संविधान के अनुसार किसी भी सीएम को पद पर बने रहने के लिए 6 माह में विधानसभा या फिर विधान परिषद का सदस्य होना जरुरी होता है। लेकिन उद्धव ठाकरे अभी तक दोनों में से किसी भी एक जगह पर भी पद पर नहीं बन पाए हैं।
27 मई को उद्धव ठाकरे को सीएम बनने के 6 माह पूरे होने जा रहे हैं। लेकिन अभी तक महाराष्ट्र विधानसभा या फिर विधान परिषद का सदस्य नहीं बन सके हैं। 9 और 28 अप्रैल को इस बारे में राज्यपाल को भी प्रस्ताव भेजा थे, लेकिन अभी तक राज्यपाल ने कोई भी निर्णय नहीं लिया। इसके चलते सीएम उद्धव ठाकरे ने पीएम मोदी से मदद मांगी हैं। maharashtra political crisis समाचार एजेंसी के हवाले से खबर हैं कि उद्धव ठाकरे ने पीएम मोदी से फोन कर इस बारे में मदद मांगी है। इस मामले में पीएम मोदी ने उन्हें पूरी मदद के लिए भरोसा दिया है। पीएम मोदी ने कहा इस बारे में विचार करेंगे।

राज्यपाल को भेजे उद्धव ठाकरे ने पत्र

सीएम उद्धव ठाकरे ने राज्यपाल को दो बार पत्र भेजे, लेकिन राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी की ओर से कोई पहल नहीं की गई। कोरोना के चलते उद्धव ठाकरे की सरकार और सीएम पद पर संकट आ सकता है। उद्धव ठाकरे ने अपील की है कि कोरोना के ऐसे हालात में राजनीतिक अस्थिरता राज्य में नहीं होनी चाहिए। इसी वजह से विधान परिषद की एक खाली सीट पर उद्धव ठाकरे को मनोनीत करने की मांग की जा रही है।

उद्धव ठाकरे ही पहले नहीं पहले भी ऐसा हुआ

उद्धव ठाकरे ही पहले एक ऐसे नेता नहीं हैं, जो सदस्य नहीं है, बल्कि महाराष्ट्र में पहले भी ऐसे सीएम हुए हैं, जिनकी सदस्यता को लेकर सरकार पर संकट पैदा होने लगा है। maharashtra political crisis हालांकि पीएम मोदी ने उद्धव ठाकरे को आश्वासन दिया है, इसके चलते उद्धव ठाकरे की कुर्सी पर असर नहीं आएगा। 28 नवंबर 2019 को शपथ समारोह के दौरान ही राज्यपाल कोश्यारी ने उद्धव ठाकरे को 6 माह के भीतर विधानमंडल के किसी भी सदन का सदस्य बनने के लिए कहा था।

One thought on “उद्धव ठाकरे ने पीएम मोदी से मांगी मदद, सीएम पद से इस्तीफे को लेकर…”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *