हज़रत अली(र.अ.) ने बताया- रात को सोते वक़्त 3 बार पढ् लें, जिसने जादू किया है उसका चेहरा नज़र आ जायेगा…

दोस्तों अस्सलाम वालेकुम रहमतुल्लाहि व बरकत दोस्तों आज हम बात करने जा रहे हैं काला जादू पर काले जादू की चार निशानियां होती है और कैसे पता किया जाता है कि किसी शख्स पर जादू है या नहीं दोस्तों कुछ लोग दुनिया में ऐसे भी होते हैं कि उनके ऊपर काला जादू नहीं होता है लेकिन उनको अगर किसी ने बता दिया हो कि आपके ऊपर जादू है तो वह शख्स उस बात को हक और सच मान लेता है लेकिन असल में उस पर कोई जादू नहीं रहता है.

तो आइए दोस्तों आपको बताते हैं कि कौन सा तरीका होता है जिससे यह पता चलता है कि किसी इंसान पर जादू है या नहीं दोस्तों आपको बता दें कि जब तक आप के ऊपर कुछ मख्सूस निशानियां जाहिर ना हो तब तक आप किसी के बात पर यकीन ना करें कि आप के ऊपर जादू हो चुका है.

google

लेकिन दोस्तों आज हम आपको एक ऐसी तरकीब बताएंगे जिससे आपको पता चल जाएगा कि आप के ऊपर जादू है या नहीं इसके साथ-साथ आपको यह भी पता चल जाएगा कि आपके ऊपर जादू करने वाला कौन शख्स है और इसके साथ ही आपके घर में जहां जादू को दफन किया गया है या तावीज़ को दफन किया गया है.

वह सब आपके सामने आ जाएंगे दोस्तों आपको बता दें कि इमाम अबू हनीफा रहमतुल्ला आले के नजदीक जादूगर एक मुर्तद से भी बड़ा मुजरिम है इमाम अबू हनीफा रहमतुल्ला अलैह कहते हैं कि मुर्तद सिर्फ अपनी ज़ात को ही नुकसान पहुंचाता है लेकिन जादूगर पूरी दुनिया में फसाद पैदा करता है.

google

दोस्तों जादू का इतना बड़ा गुनाह इसलिए है क्योंकि उसमें अल्लाह को छोड़कर शैतान से मदद मांगी जाती है इंसान अल्लाह की बुराइयां कर के शैतान को खुश करता है और कुरान की बेअदबी करता है तब शैतान खुश होकर उसका साथ देता है किसी भी जादू को करने के लिए शैतान से मदद मांगनी पड़ती है इसलिए हमारे नबी ने जादू करने के लिए मना किया है क्योंकि इसमें अल्लाह से नहीं बल्कि शैतान से मदद मांगी जाती है.

ये वजीफा पढ़े: अगर आपको शक है कि किसी ने आपके ऊपर काला जादू करवा दिया है फिर आप को रात में सोने से पहले तीन बार आयतुल कुर्सी चालीस दिन तक पढ़ ले.आप को ख्वाब में जिस शख्स ने काला जादू करवाया है उसका चेहरा नजर आ जायेगा वही काला जादू का असर भी खत्म हो जायेगा. आगे देखें वीडियो में.

11 thoughts on “हज़रत अली(र.अ.) ने बताया- रात को सोते वक़्त 3 बार पढ् लें, जिसने जादू किया है उसका चेहरा नज़र आ जायेगा…”

  1. Assalam alekum janab
    Muje is amal ko Karne ki izzazat digiye
    Baaki ise Karne k liye Koi waqt to mukarrar to n na

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *