UP-कांग्रेस ने दो मुस्लिम नेताओ को दी अहम ज़िम्मेदारी

बीते साल देश के 3 राज्यों में विधानसभा चुनाव जीतने के बाद इस वक्त कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी केंद्र की सत्ता का किला फतह करने की पूरी जोर आजमाइश में लगे हुए हैं।उत्तर प्रदेश की जिम्मेदारी उन्होंने प्रियंका गांधी के हाथों सौंप दी है जिसके बाद से ही प्रियंका गांधी बीजेपी को मात देने के लिए हर तरह की रणनीति पर काम कर रही है।

इसी बीच खबर सामने आ रही है कि राहुल गांधी ने उत्तर प्रदेश में 2 मुस्लिम नेताओं को अहम जिम्मेदारी सौंपी है।पार्टी के इन मुस्लिम नेताओं का नाम है रहमान के लिए और युसूफ अली।कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने खली को पूर्वी उत्तर प्रदेश और यूसुफ अली को अपनी उत्तर प्रदेश का अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ अध्यक्ष बना दिया है।

google

माना जा रहा है कि कांग्रेस उनके जरिए उत्तर प्रदेश के मुसलमानों को पार्टी के साथ जोड़ने की कोशिश कर रही है।राजनीतिक सूत्रों का कहना है कि राहुल गाँधी ने चुनावी समीकरण देखते हुए ये दांव बिलकुल सही समय पर चला है।इससे पार्टी के जनाधार में इजाफा होगा।वहीँ भारतीय जनता पार्टी की मुश्किलें बढ़ेंगी।दरअसल बीते कुछ समय से ही मुसलमानों का भरोसा बीजेपी सरकार से उठ चुका है। इसी कारण कांग्रेस इस मौके को भुना रही है।

गौरतलब है कि कांग्रेसी इस वक्त उत्तर प्रदेश में हर तरह से अपने जनाधार को बढ़ाने के लिए काम कर रही है।इसी कड़ी में उत्तर प्रदेश कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी जी प्रयागराज से वाराणसी के बीच 3 दिन की जलमार्ग यात्रा पर है।बताया जा रहा है कि आने वाले चुनाव को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और एनसीपी यादव के बीच एक बैठक हुई है।जिसमें महाराष्ट्र में कांग्रेस और एनसीपी के गठबंधन को लेकर रणनीति पर चर्चा की गई है।

google

आपको बता दें कि जहाँ महाराष्ट्र में कांग्रेस और एनसीपी के बीच गठबंधन होने की संभावना बन रही है।वहीँ महाराष्‍ट्र में सपा-बसपा के गठबंधन की सूचनाएं भी आ रही हैं।ऐसे में इस बैठक में महाराष्‍ट्र के जातीय गणित पर भी विचार विमर्श किया जा रहा है।माना जा रहा है कि इस बार के लोकसभा चुनाव काफी दिलचस्प होने वाले हैं। सभी राजनीतिक दल बीजेपी को मात देने के लिए एकजुटता दिखा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *