केवल उन्ही 2 प्रतिशत लोगो के हाथो में होते है ये निशान ,जिनकी किस्मत होती है ख़राब

दोस्तों आपका हमारे इस लेख में स्वागत है आज आपको एक ऐसे जानकारी देने वाले है जिसके बारे में शायद आपको जानकर हैरानी होगी तो आइये शुरू करे है ! दोस्तों यह तो सभी जानते है के हमारे जीवन में आय दिन कुछ न कुछ अच्छी या बुरी घटनाये घटती रहेती है जिनका सम्बन्ध हमारी राशियों से होता है ! इतना ही नहीं आपको बता दें कि ज्योतिष शास्त्र में कई सारी शाखाएं है जिसमें से एक ‘हस्तरेखा विज्ञान भी है जी हां इसके जरिए व्‍यक्ति के हाथों की रेखाओं को पढ़ा जा सकता है और हाथों की लकीरों को देखकर व्‍यक्ति का भविष्‍य भी बताया जा सकता है। लेकिन क्‍या आपको ये पता हैं कि कई बार इंसान की हाथों में कुछ ऐसी रेखाएं होती हैं जो मुख्‍य होती है जैसे की भाग्य रेखा, हृद्य रेखा, जीवन रेखा, विवाह की रेखा आदि प्रमुख हैं। इसके अलावा आपको ये भी बता दें कि हाथों पर कुछ शुभ-अशुभ चिह्न भी होते है।

दोस्तों आपको यह जानकारी होगी कि शास्‍त्रों के अनुसार हमारी हथेली पर ऐसे कई निशान होते हैं जो छोटी-छोटी रेखाओं के मिलने या टकराने से बनते हैं। इनमें कुछ निशान हमें शुभ फल प्रदान करते हैं, किंतु कुछ बेहद अशुभ होते हैं। बता दें कि हथेली पर कहीं शुभ कहीं अशुभ चिह्नों का अपना महत्व होता है। सबसे पहले तो आपको बता दें कि स्वतंत्र चिह्न, जिनमें द्वीप, क्रॉस, नक्षत्र, त्रिभुज, चतुर्भुज, जाल, वर्ग या कंदुक, त्रिशूल, ध्वज, सर्प जिह्वा या अंग्रेजी ‘वी’आकार की रेखा, पयोनिधि रेखा या अंग्रेजी के डब्लू आकार की आदि प्रमुख हैं। लेकिन वहीं ये भी बता दें कि हस्तरेखा शास्त्र के अनुसार आपके हाथ पर बना क्रॉस का निशान मुसीबत, निराशा, खतरा और कभी-कभी जीवन में संकट का संकेत देता है। क्रॉस के लक्षण विभिन्न पर्वतों और रेखाओं की स्थिति पर निर्भर करते हैं।

वहीं आपको ‘एम’ अक्षर का निशान या ‘स्टार’ या फिर और भी कुछ खास इंसान में ‘चक्र’का निशान होता है तो ये हाथ के शुभ निशान में माने जाते हैं, वहीं आपको ये भी बता दें कि कुछ ऐसे निशान भी हैं जो हर परिस्थिति में बेहद अशुभ स्थितियां लाते हैं। आज हम आपको हथेली के एक ऐसे अशुभ निशान ‘क्रॉस’ के बारे में बताने जा रहे हैं।

वहीं इसके अलावा ये भी देखा जाता है कि कई लोगों के हाथों में दो रेखाएं जब आकार ऐसा हो यानि की एक दूसरे को काटती है तो ये निशान बनता है। यूं तो हमारे हाथ में अनगिनत रेखाएं होती हैं जो क्रॉस का निशान बनाती हैं, लेकिन असल में अशुभ क्रॉस निशान कौन सा है और किस स्थान पर बनता है, आज हम आपको इसके बारे में बताएंगे।

यह दुर्घटना के द्वारा एक हिंसक मृत्यु के संकट की चेतावनी देता है। लेकिन जब यह पर्वत के केंद्र पर स्थित हो, तो व्यक्ति के जीवन में भाग्यवादी की प्रवृत्ति को बढ़ाता है।

वहीं आपको ‘एम’ अक्षर का निशान या ‘स्टार’ या फिर और भी कुछ खास इंसान में ‘चक्र’का निशान होता है तो ये हाथ के शुभ निशान में माने जाते हैं, वहीं आपको ये भी बता दें कि कुछ ऐसे निशान भी हैं जो हर परिस्थिति में बेहद अशुभ स्थितियां लाते हैं। आज हम आपको हथेली के एक ऐसे अशुभ निशान ‘क्रॉस’ के बारे में बताने जा रहे हैं।

वहीं इसके अलावा ये भी देखा जाता है कि कई लोगों के हाथों में दो रेखाएं जब आकार ऐसा हो यानि की एक दूसरे को काटती है तो ये निशान बनता है। यूं तो हमारे हाथ में अनगिनत रेखाएं होती हैं जो क्रॉस का निशान बनाती हैं, लेकिन असल में अशुभ क्रॉस निशान कौन सा है और किस स्थान पर बनता है, आज हम आपको इसके बारे में बताएंगे।

यह दुर्घटना के द्वारा एक हिंसक मृत्यु के संकट की चेतावनी देता है। लेकिन जब यह पर्वत के केंद्र पर स्थित हो, तो व्यक्ति के जीवन में भाग्यवादी की प्रवृत्ति को बढ़ाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *