राजनीति

इस देश के चुनाव में 50 से अधिक एग्जि’ट पोल में जिस पार्टी को जीता दिखाया था, उसे मिली बड़ी हार

हाल ही में हमारे देश में लोकसभा चुनाव संपन्न हुए हैं. सात चरणों में चले मतदान के बाद अब नतीजों का इन्तिज़ार है लेकिन एग्जि’ट पोल ने काफ़ी हलचल मचाई हुई है. अधिकतर एग्जि’ट पोल दावा कर रहे हैं कि भाजपा अपने गठबंधन के साथियों के साथ मिलकर सरकार बनाने में कामयाब हो जाएगी. कुछ एग्जि’ट पोल तो यहाँ तक दावा कर रहे हैं कि भाजपा अकेले दम पर ही बहुमत हासिल कर लेगी. इतना ही नहीं कुछ का दावा ये भी है कि मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस को महज़ 37 सीटें ही मिल सकेंगी.

इन बहुत से ए’ग्जिट पोल के दावों में एक बात है कि सभी एग्जि’ट पोल दूसरे से बहुत अंतर पर हैं. फिर भी सभी एग्जि’ट पोल दिखाने वाले चाहते हैं कि अब सरकार तो इसी बात पर बन जानी चाहिए. बहरहाल इससे पहले कि आप अपने देश के टीवी चैनलों के एग्जि’ट पोल पर कोई राय बनाएं हम आपको बताना चाहेंगे कि हाल ही में ऑस्ट्रेलिया में फ़ेडरल चुनाव हुए. इन चुनावों के बाद बहुत सारे ए’ग्जिट पोल आये.

50 से अधिक एग्जि’ट पोल ने दावा किया कि ऑस्ट्रेलिया में लेबर पार्टी सत्ता में आएगी. परन्तु जब चुनाव के नतीजे जब आये तो मामला ही पलट गया. लेबर पार्टी ने तो एग्जि’ट पोल के बाद ख़ुशी भी मना ली. इसके बाद जब नतीजे आये तो मालूम हुआ कि कंज़रवेटिव पार्टी का गठबंधन चुनाव जीता. इन चुनावों में लेबर पार्टी को 82 सीटें दी जा रही थीं लेकिन नतीजों के बाद उसे महज़ 66 सीटें ही मिलीं.

ऑस्ट्रेलिया में 151 सीटों का सदन है और 76 सीटों पर बहुमत मिल जाता है. इस चुनाव में कंज़रवेटिव गठबंधन को 74 सीटें मिलीं जिसके बाद उसे निर्दलीय सदस्यों के समर्थन मिल गया. भारत में जिस तरह से एग्जि’ट पोल की चर्चा चल रही है उसके मुताबिक़ भारी संभावनाएं हैं कि नतीजे कुछ और हों.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button