यूपी के IAS अफसर का धर्मांतरण पर सामने आए वायरल वीडियो से मचा तहलका, फिर जो हुआ वो देखिए

यूपी में जबरन धर्मांतरण को लेकर मुहिम चला रही सरकार के सामने अपने ही आईएएस अधिकारी का एक कथित वीडियो सामने आने पर सत्‍ता के गलियारों में तहलका मच गया है.

यूपी में जबरन धर्मांतरण (Religion Conversion) को लेकर मुहिम चला रही सरकार के सामने अपने ही आईएएस अधिकारी का एक कथित वीडियो सामने आने पर सत्‍ता के गलियारों में तहलका मच गया है. धर्मांतरण को लेकर आईएएस अधिकारी का विवादित वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है. यूपी सरकार ने इस मामले में तत्‍काल जांच के आदेश दिए हैं.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम के चेयरमैन इफ्तिखारुद्दीन (Mohammad Iftikharuddin) का विवादित वीडियो वायरल हुआ है. आईएएस अधिकारी मोहम्मद इफ्तिखारुद्दीन का धर्मांतरण गैंग से कनेक्शन सामने आ रहा है. रिपोर्ट के अनुसार, उनके सरकारी आवास पर उनकी मौजूदगी में धर्म परिवर्तन को लेकर तकरीरें की गईं. तकरीरों के कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं, जिसमें वह कुछ मुस्लिम समाज के लोगों के साथ बैठे हैं और धर्म परिवर्तन के फायदे गिना रहे वक्ता को सुन रहे हैं. इतना ही नहीं वीडियो में आईएएस इफ्तिखारुद्दीन इस्लाम धर्म के प्रचार की बातें भी कर रहे हैं. इसके बाद हड़कंप मच गया है.

पुलिस कमिश्नर ने दिए जांच के आदेश

आरोप है कि वीडियो में वरिष्ठ आईएएस दूसरे समुदाय के लोगों को कट्टरपंथ का पाठ पढ़ा रहे हैं. वीडियो उनके आवास का बताया जा रहा है. मामले के तूल पकड़ने के बाद सोमवार को पुलिस कमिश्नर असीम अरुण ने वायरल वीडियो की जांच एडीसीपी पूर्वी सोमेंद्र मीणा को सौंप दी. उन्होंने बताया कि जांच में देखा जाएगा कि क्या वीडियो में कोई अपराध प्रदर्शित हो रहा है? या वरिष्ठ आईएएस की ओर से किसी नियम का उल्लंघन किया गया है?

वीडियो ने यूपी में मचा दिया है हंगामा

वीडियो कब का है, किसने शूट किया है यह फिलहाल साफ नहीं है. लेकिन इसके वायरल होने के बाद डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने कहा है कि इसकी जांच कराई जाएगी. इस वीडियो को लेकर कानपुर के भूपेंद्र अवस्थी ने सीएम पोर्टल पर शिकायत करके आईएएस के खिलाफ जांच की मांग की है. भूपेश अवस्थी मठ एवं मंदिर समन्यवय समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं. वीडियो ने यूपी में हंगामा मचा दिया है क्योंकि यह ऐसे वक्त पर आया है जब यूपी में धर्म परिवर्तन गिरोह के खिलाफ बड़े पैमाने पर मुहिम चल रही है.

फिलहाल इफ्तिखारुद्दीन लखनऊ में परिवहन विभाग में तैनात हैं. वे पांच साल पहले कानपुर में कमिश्नर पोस्ट पर थे. वीडियो में कानपुर का जिक्र है. इससे माना जा रहा है कि यह उनकी कानपुर पोस्टिंग के दौरान का है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.