Uncategorized

29 नवंबर का राशिफल, आज का पंचांग जानिए कैसा रहेगा आपके लिए शुक्रवार

आज का पंचांग-
दिनांक 29.11.2019
शुभ संवत 2076 शक 1941 …
सूर्य दक्षिणायन का …
मार्गशीर्ष शुक्ल पक्ष – तृतीया तिथि.. शाम 05 बजकर 40 मिनट तक … शुक्रवार…. मूल नक्षत्र.. दिन को 07 बजकर 34 मिनट तक … आज चन्द्रमा … धनु राशि में… आज का राहुकाल दिन को 10 बजकर 30 मिनट से 11 बजकर 52 मिनट तक होगा …
धन का सुख पाने के लिए करें कुबेर पूजा –
यस्यास्ति वित्तं स नरः कुलीनः। स पण्डितः स श्रुतिमान गुणज्ञः।
स एवं वक्ता स च दर्शनीयः। सर्वेगुणाः कांचनमाश्रयन्ति।।
-श्री भर्तृहरि

नीति का यह श्लोक आज के अर्थ-प्रधान युग का वास्तविक स्वरूप व सामाजिक चित्र प्रस्तुत करता है। आज के विश्व में धनवान की ही पूजा होती है। जिस मनुष्य के पास धन नहीं होता, वह कितना ही विद्वान हो, कितना ही चतुर हो, उसे महत्ता नहीं मिलती। इस प्रकार ऐसे बहुत से व्यक्ति मिलते हैं, जो सर्वगुण सम्पन्न हैं, परन्तु धन के बिना समाज में उनका कोई सम्मान नहीं है। जितना आप-व्यय करते हैं, उस पर आप की समृद्धि निर्भर है। आप कितना कमाते हैं, यह प्रश्न इतना महत्वपूर्ण नहीं जितना खर्च है। आप सौ रुपया कमाते और डेढ़ सौ खर्च करते हैं, तो बढ़े हुए पचास रुपयों के लिए आप या तो चोरी करेंगे, गाँठ काटेंगे, धोखा देंगे या अनीति की राह पर चलेंगे। आपका खर्च करना आपकी सामाजिक व्यवस्था का निर्माण करेगा। चाहे आपकी आमदनी कुछ भी क्यों न हो। आपके खर्च अधिक होने का अभिप्राय है कि आपकी आवश्यकताएँ बढ़ी हुई हैं। उनमें कुछ जरूरी और कुछ व्यर्थ के खर्च हो सकते हैं। धन योग प्रबल और व्यय भाव निर्बल होना चाहिए।
अतः यह आवश्यक है कि जन्म कुंडली में धन द्योतक ग्रहों एवं भावों का पूर्ण रूपेण विवेचन किया जाये। ज्योतिष शास्त्र में जन्म कुंडली में धन योग के लिए द्वितीय भाव, पंचम भाव, नवम भाव व एकादश भाव विचारणीय है। पंचम-एकादश धुरी का धन प्राप्ति में विशेष महत्व है। महर्षि पराशर के अनुसार जैसे भगवान विष्णु के अवतरण के समय पर उनकी शक्ति लक्ष्मी उनसे मिलती है तो संसार में उपकार की सृष्टि होती है। उसी प्रकार जब केन्द्रों के स्वामी त्रिकोणों के भावधिपतियों से संबंध बनाते हैं तो बलशाली धन योग बनाते हैं। यदि केन्द्र का स्वामी-त्रिकोण का स्वामी भी है, जिसे ज्योतिषीय भाषा में राजयोग भी कहते हैं। इसके कारक ग्रह यदि थोड़े से भी बलवान हैं तो अपनी और विशेषतया अपनी अंतर्दशा में निश्चित रूप से धन पदवी तथा मान में वृद्धि करने वाले होते हैं। पराशरीय नियम, यह भी है कि त्रिकोणाधिपति सर्वदा धन के संबंध में शुभ फल करता है। चाहे, वह नैसर्गिक पापी ग्रह शनि या मंगल ही क्यों न हो। किसी जातक को अपनी कुंडली का विश्लेषण कराकर धनयोग को बढ़ाने के आवश्यक उपाय करना चाहिए। कालपुरूष की कुंडली से देखा जाए तो किसी भी जातक को धन योग बढ़ाने के लिए शुक्र के मंत्र का जाप करना, कुबेर पूजा करनी चाहिए साथ ही सुहाग की सामग्री दान करना एवं अन्न का दान करना चाहिए।

आज के राशियों का हाल तथा ग्रहों की चाल-
मेष राशि –
आप कार्यक्षेत्र की योजनाओं के अलावा आर्थिक लेन-देन में लगे रहेंगे…
व्यावहारिक जीवन में आपकी काम करने की तरकीब सभी को पसंद आती है…
कार्य की अधिकता से थकान संभव…
उपाय –
काला वस्त्र या तिल का तेल दान करें…
शनि के बीज मंत्र का जाप करें…

वृषभ राशि –
अपने सीनियर अधिकारियों के बीच आपके कार्य प्रणाली से प्रशंसा प्राप्त होगी…
पारिवारिक सदस्य के स्वास्थ्य से उलझन…
दिनभर व्यस्तता रहेगी…
उपाय –
जल में कच्चा दूध डालकर अभिषेक करें…
दुर्गा चालीसा का पाठ करें…

मिथुन राशि –
मुख्यालय में प्रवास से लाभ….
आत्म विश्वास में बढ़ोतरी एवं संबंधों में निकटता….
सहकर्मियों से विरोध तथा तनाव…
शनि से उत्पन्न कष्टों की निवृत्ति के लिए –
‘‘ऊॅ शं शनिश्चराय नमः’’ का जाप कर दिन की शुरूआत करें,
भगवान आशुतोष का रूद्धाभिषेक करें,

कर्क राशि –
आज किसी बात पर आपका स्वाभिमान हर्ट हो सकता है ….
आकस्मिक घाटा या धोखा देने के कारण विवाद की संभावना…..
थोड़ी सावधानी की आवश्यकता होगी…
मंगल से संबंधित दोषों की निवृत्ति के लिए निम्न उपाय करें तो लाभ होगा-
ऊॅ भौं भौमाय नमः का एक माला जाप करें….
मंदिर में लड्ड़ का भोग लगायें….

सिंह राशि –
समय के दुरूपयोग से बचें…
आवास से संबंधित समस्या का निराकरण निकलेगा….
व्यवहार में चिड़चिड़ा बढ़ सकता है….
शांति के लिए –
उॅ नमः शिवाय का जाप करें…
दूध, चावल का दान करें…
श्री सूक्त का पाठ करें धूप तथा दीप जलायें…

कन्या राशि –
निर्णय में विलंब से कार्य में बाधा….
श्वासरोग से पीड़ित…..
विश्वास में कमी होने की संभावना…
चंद्रमा के उपाय –
ऊॅ सों सोमाय नमः का जाप करें,
चावल, कपूर, का दान करें,
शिव सहस्त्रनाम का पाठ करें,

तुला राशि –
व्यवसायिक संबंधों में खटास….
कोर्ट में धन संबंधित विवाद…..
व्यर्थ की यात्रा…..
राहु के उपाय –
ऊॅ रां राहवे नमः का जाप कर दिन की शुरूआत करें,
धतूरे की माला शिवजी में चढ़ायें,

वृश्चिक राशि –
ऊर्जा तथा उत्साह में वृद्धि…..
काम में एकाग्रता….
वातरोग से कष्ट….
केतु के उपाय –
गणपति की उपासना करें, धूप, दीप तथा नैवेद्य चढ़ायें,
गुरूजन को मीठी चीजों का दान करें,
ऊॅ कें केतवें नमः का जाप कर दिन की शुरूआत करें,

धनु राशि –
नये परिचय से व्यय संभव…
किसी प्रिय से अलगाव….
थकान भी संभव…
उपाय करें तो लाभ होगा-
ऊॅ धृणि सूर्याय नमः का पाठ करें…..
गुड़.. गेहू…का दान करें..
आदित्य ह्दय स्त्रोत का पाठ करें…

मकर राशि –
अध्ययन संबंधी की तैयारी करेंगे…
प्रसिद्धि की प्राप्ति….
व्यवसाय में नवीनीकरण…
उपाय आजमायें –
1. ऊॅ सों सोमाय नमः का एक माला जाप करें……
2. खीर बनाकर कम से कम एक कन्या को खिलायें….
3. स्वेत वस्त्र माता दुर्गा को अर्पित करें……

कुंभ राशि –
लोन की प्रक्रिया आज आसानी से निपट सकती है…
पार्टनर का सर्पोट….
शारीरिक कष्ट…
गुरू से संबंधित निम्न उपाय के लिए –
ऊॅ गुरूवे नमः का जाप करें…
गुरूजनों का आर्शीवाद लें..

मीन राशि –
ऋण मुक्ति के प्रयासों में सफलता…
प्रतियोगिता परीक्षा या साक्षात्कार में मनचाही सफलता…
बौद्धिक कुशलता से सम्मान की प्राप्ति…
विवाद से धन हानि….
शनि के उपाय –
‘‘ऊॅ शं शनैश्चराय नमः’’ की एक माला जाप कर दिन की शुरूआत करें..
भगवान आशुतोष का रूद्धाभिषेक करें,
3. उड़द या तिल दान करें,

Related Articles

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button