घर में इस पौधे को लगाने से मां लक्ष्मी की बनती है विशेष कृपा, ये शनि का भी है प्रिय

Vastu Tips For Home: वास्तु अनुसार ये पौधा घर में सही दिशा में रखने से धन-धान्य में वृद्धि होने लगती है। जानिए इस पौधे को लगाने की विधि और फायदे।

Vastu Shastra For Home: वास्तुशास्त्र अनुसार हर चीज की एक निश्चित दिशा निर्धारित होती है जिसे उसी के हिसाब से रखना लाभकारी माना जाता है। गलत दिशा में कोई भी चीज होने से वास्तु दोष उत्पन्न होता है जिससे घर परिवार के लोगों की तरक्की में बाधा उत्पन्न होती है। इसी तरह पेड़-पौधों को लेकर भी दिशा निर्धारित होती है। यहां हम बात करेंगे शमी के पौधे की जो शनि देव का प्रिय माना जाता है। वास्तु अनुसार ये पौधा घर में सही दिशा में रखने से धन-धान्य में वृद्धि होने लगती है। जानिए इस पौधे को लगाने की विधि और फायदे।

signs for maa lakshmi providing wealth

शमी पौधे के लाभ: शमी को मुख्य रूप से शनि देव का पौधा माना जाता है। मान्यता है इसे घर में लगाने से शनि देव की कृपा प्राप्त होती है। साथ ही ये पौधा भगवान शिव का भी प्रिय माना जाता है। कहते हैं जिस घर में ये पौधा होता है वहां किसी की बुरी दृष्टि नहीं पड़ती। इस पौधे को सही दिशा में लगाने से सुख समृद्धि आने की मान्यता है। अगर घर में पैसा टिकता नहीं है तो इस पौधे को लगाने से लाभ प्राप्त होता है। इसे लगाने से शनि देव की दशा का भी बुरा प्रभाव नहीं पड़ता।

शमी पौधा लगाने की विधि और दिशा: शमी का पेड़ घर के बाहर इस तरह से लगाएं कि घर से बाहर निकलते समय ये आपके हाथ के दायें तरफ पड़े। अगर घर के बाहर जगह नहीं है तो इसे आप छत पर दक्षिण दिशा में रख सकते हैं और इसके अलावा आप इसे पूर्व दिशा या ईशान कोण में भी रख सकते हैं। अगर शनि साढ़े साती या ढैय्या चल रही है तो शमी के पेड़ के आगे हर शनिवार सूर्यास्त के समय सरसों के तेल का दीपक जलाना चाहिए। इस पेड़ को लगाने के लिए सबसे उत्तम दिन शनिवार माना जाता है।

ध्यान रखने योग्य बातें: शमी का पौधा जहां भी लगाएं वो स्थान साफ-सुथरा रहना चाहिए। इस पेड़ की रोजाना पूजा करें और जल भी चढ़ाएं। रोजाना इस पेड़ के पास शाम के समय दीपक जरूर जलाएं। इस पौधे में निरंतर पानी डालते रहें जिससे ये सूखे नहीं। शनि दोष से मुक्ति के लिए शनिवार के दिन इस पौधे में उड़द की दाल और काले तिल चढ़ाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *