पुल’वा’मा पर भीम आर्मी के मुखिया चंद्रशेखर का बड़ा बयान, कहा- ‘झूठा हम’ला करा…’

हेलो दोस्तों हम लेकर आए हैं आपके लिए पुल’वामा हम’ले से जुड़ी एक ब्रेकिंग न्यूज़, पुल’वामा हम’ले को लेकर भीम आर्मी के मुखिया चंद्रशेखर ने दिया एक बड़ा बयान, जिसके बाद सियासी पारा और भी चढ़ गया है. रुड़की के नेहरू स्टेडियम में भीम आर्मी की तरफ से विशाल बहुजन महा सम्मेलन का आयोजन किया गया था इस सम्मेलन को संबोधित करने के लिए भीम आर्मी के मुखिया चंद्रशेखर को बुलाया गया था लेकिन चंद्रशेखर ने सम्मेलन को संबोधित करते हुए पुल’वामा हम’ले के बारे में एक बड़ा बयान दे दिया.

उन्होंने कहा कि “पुलवामा में सैनिकों पर झू’ठा आतं’कवादी हम’ला करवाया गया था” चंद्रशेखर ने यह भी सवाल उठाया कि तमाम इंटेलिजेंस की चेतावनी के बावजूद सैनिकों तक 300 किलो की विस्फो’टक सामग्री आखिर कहां से पहुंची? यह इस बात का सबूत है कि यह हम’ला किसी बाहरी ने नहीं बल्कि किसी अंदर के व्यक्ति ने ही करवाया है.

google

चन्द्रशेखर ने सम्मेलन के दौरान मोदी सरकार पर जमकर हम’ला बोला ,उन्होंने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री मोदी ने तो शही’दों को भी नहीं छोड़ा ,पीएम मोदी ने 40 सीआरपीएफ जवानों की मौ’त का भी राजनीतिक में इस्तेमाल किया है. चंद्रशेखर ने मोदी पर हम’ला बोलते हुए मुसलमानों के पक्ष में भी सहानुभूति दिखाई उन्होंने कहा कि एक मुसलमान की गलती की सजा हम हिंदुस्तान के सभी मुसलमानों और कश्मीरियोंं को क्यों दें। मोदी सरकार मुसलमानों को टारगेट बना कर हिंदुस्तान का माहौल खराब कर रही है.

सम्मेलन को संबोधित करते हुए उन्होंने आगे यह भी कहा कि सैनिकों पर हम’ला करवाना सरकार की असफलता को दर्शाता है, राजनीतिक लाभ उठाने के लिए पुलवामा में सैनिकों पर हम’ला करवाया गया है. यह बात अमेरिकी इंटेलिजेंस ने 1 महीने पहले ही बता दी थी. चंद्रशेखर ने सीआरपीएफ के शही’द जवानों के परिवार वालों को अर्ध पेंशन देने की मांग भी की, उन्होंने कहा कि भले ही हम उनके बेटे या पति को वापस नहीं कर सकते हैं लेकिन पेंशन से उनकी काफी मदद होगी.

google

सम्मेलन के दौरान उन्होंने झबरेड़ा क्षेत्र के शराब कांड का जिम्मेदार भी प्रशासन को ही बताया, साथ ही चंद्रशेखर ने आदिवासियों के हक की बात भी की उन्होंने कहा कि आदिवासियों को उनके निवास स्थानों से निकाला जा रहा है जबकि यह संविधान में है कि आदिवासियों का वन संपदा पर पूरा अधिकार है, हम आदिवासियों पर अत्याचार और उनके अधिकारों का हनन नहीं होने देंगे.

चंद्रशेखर ने मोदी सरकार के साथ-साथ सीएम त्रिवेंद्र रावत पर भी हम’ला बोला, उन्होंने सीएम के शराब पीड़ितों के घर ना जाने की भी निंदा की. जबसे चंद्रशेखर ने सैनिकों पर हमले को राजनीति बताया है तब से लोगों में हड़कंप मचा हुआ है अब इस बात पर मोदी सरकार का क्या जवाब होगा यह हम आपको अगली खबर में बताएं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *