पूर्व BJP अध्यक्ष के चुनाव में धां’धली को लेकर दाख़िल हुई थी याचिका, अब बोम्बे हाईको’र्ट ने भेजा नोटिस..

मुंबई: बॉम्बे उच्च न्यायलय की नागपुर पीठ ने भाजपा के वरिष्ठ नेता नितिन गडकरी और भारतीय निर्वाचन आयोग को एक या’चिका का जवाब देने के लिए नोटिस भेजा है. गडकरी मोदी सरकार में केन्द्रीय मंत्री भी हैं. इस याचि’का में याचि’काकर्ताओं ने दावा किया है कि गडकरी के चुनाव में कई क़िस्म की धांध’ली हुई है जिसकी वजह से गडकरी जीते हैं. इस मामले में बॉम्बे हाई कोर्ट ने जवाब माँगा है.

हाई कोर्ट ने मामले की आगे की सुनवाई के लिए तारीख़ 22 अगस्त तय की है. उल्लेखनीय है कि कांग्रेस के नेता नाना पटोले, वंचित बहुजन अघाड़ी के उम्मीदवार मनोहर डबरासे और नफीस खान ने निर्वाचन प्रक्रिया को लेकर संदेह जताया था और बाद में इसको लेकर या’चिकाएं भी दायर की हैं. इस पर सुनवाई करते हुए न्यायमूर्ति ए एस चंदुरकर की एकल पीठ ने गुरुवार के रोज़ नोटिस जारी कर दिया है.

पटोले और डबरासे ने पूर्व भाजपा अध्यक्ष गडकरी के ख़िला’फ़ चुनावी मैदान में उतरे थे. गडकरी ने यहाँ 1 लाख 97 हज़ार वोटों की बड़ी जीत हासिल की. बीजेपी उम्मीदवार नितिन गडकरी के निकटतम प्रतिद्वंद्वी पटोले थे. पटोले ने कहा कि चुनाव के दौरान राज्य निर्वाचन आयोग ने सभी प्रक्रियाओं का ठीक से पालन नहीं किया. डबरासे ने आ’रोप लगाया कि चुनाव के दौरान त्रुटिपूर्ण E-V.M का इस्तेमाल किया गया.

याचि’काकर्ताओं ने इस बारे में कई क़िस्म की दलीलें दीं जिसके बाद न्यायमूर्ति चंदुरकर ने गडकरी, निर्वाचन आयोग समेत उस आयुक्त को भी नोटिस जारी कर दिया जो उस समय नागपुर के निर्वाचन अधिकारी थे. आपको बता दें कि इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों को लेकर कई विपक्षी दल एतराज़ कर रहे हैं. इन दलों का दावा है कि ये मशीनें चुनाव में गड़बड़ी के लिए इस्तेमाल की जा रही हैं. इनमें से कई दलों ने बैलेट पेपर से चुनाव कराये जाने की माँग की है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *