लोकसभा चुना’व ख़’त्म होते ही आज़म के ख़िलाफ़ योगी सरकार की बड़ी कार्यवाही की कोशिश, रामपुर में..

लोकसभा चुना’व में बड़ी जीत हासिल करने के बाद भाजपा उत्साहित है वहीँ विपक्ष इस बारे में राय मशवरा कर रहा है कि कमी कहाँ रह गई. उत्तर प्रदेश्ह की योगी आदित्यनाथ सरकार ने रामपुर से समाजवादी पार्टी के नवनिर्वाचित सांसद आजम खान के ड्रीम प्रोजेक्ट जौहर विश्वविद्यालय में करवाई को लेकर शनिवार को राजस्व विभाग के कुछ अधिकारी पुलिस फोर्स के साथ पहुंचे। इस बात से सपाई नाराज़ दिखे, इसके बाद हडकम्प की स्थिति हो गई.

इसके बाद आजम खान ने आनन-फानन में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर स्थानीय प्रशासन और सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि अभी चुना’व को कुछ दिन ही बीते हैं कि मेरे ड्रीम प्रोजेक्ट जौहर विश्वविद्यालय को तहस-नहस करने की नियत से कुछ अधिकारी यहां आ गए हैं और जमीन की पैमाइश कर रहे हैं. ईस बारे में आज़म खान ने कहा कि जौहर विश्वविद्यालय कैंपस की सारी जमीन मैंने खरीदी है,जो कि विश्वविद्यालय के नाम है.उन्होंने कहा कि कुछ किसानों से खरीदी है तो कुछ सरकारी जमीन का विनिमय किया गया है.

आज़म ने कहा कि अचानक से आखिर ऐसा क्या हो गया कि बिना कुछ बताए अधिकारी सीधे हमारी यूनिवर्सिटी में दाखिल हुए और जमीन की पैमाइश शुरू कर दी है.मैं पूछना चाहता हूं कि क्या किसी भी जमीन की पैमाइश इसी तरह से होती है.कहां पर खसरा है,कहां पर खतौनी है,कुछ नहीं।बस आते ही सीधे जमीन की पैमाइश शुरू कर दी है. आज़म ने कहा कि यहां रजिस्ट्रार बैठे हैं,हम बैठे हैं,लेकिन बिना जांच-पड़ताल के सीधे आ गए हैं.

उन्होंने दावा किया कि उत्तर प्रदेश सरकार और सरकार के अधिकारी मुझे बर्बाद करने की कोशिश में लगे हैं.वहीं इस मामले में रामपुर जिलाधिकारी आंजनेय कुमार ने बताया कि नवनिर्वाचित सांसद आजम खान को शासन से पत्र लिखा गया था. उसी पत्र पर शासन ने आख्या मांगी कंप्लीट करके शासन को भेजने से पहले जमीन की जांच पड़ताल करनी थी. इसलिए राजस्व विभाग के कुछ अफसरों को वहां भेजा गया है,जो मौके की स्थिति को समझते हुए मुझे रिपोर्ट भेजेंगे और वही रिपोर्ट शासन को भेजी जाएगी।

दरअसल, इस पूरे मामले में राजस्व विभाग के अधिकारियों ने एक पत्र विश्वविद्याल के कुलपति को भेजा,जिसमें जौहर विश्वविद्यालय कैंपस की कुछ जमीन की पैमाइश करने की बात कहते हुए सहयोग करने की अपील की गई। जैसे पत्र पहुंचा उसी वक्त अधिकारी पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए और जमीन की पैमाइश करनी शुरू कर दी.जौहर विश्वविद्यालय में राजस्व विभाग के अधिकारियों के पहुंचने की खबर मिलते ही सपाइयों में हड़कंप मच गया. इसके बाद सपा नेता आज़म खान और कई सपाई यहाँ पहुँच गए. मीडिया से बातचीत में आज़म ने कहा कि योगी साकार मुझे बर्बाद करने की कोशिश कर रहे है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *