बिज़नेस

कहीं आप तो नहीं पीते गलत तरीके से पानी, जरूर पढ़ें पूरी खबर !

जैसा की आप जानतें होंगे कि जब हमारा जन्म होता है तो हमारा शरीर 75 प्रतिशत पानी से बना होता है. लेकिन बढ़ती उम्र के साथ-साथ ये पानी कम होता जाता है. वहीं एडलट होने के बाद पुरुषों के शरीर में केवल 60 प्रतिशत पानी रह जाता है. वहीं महिलोओं का शरीर 55 प्रतिशत पानी से बना होता है. क्या आप जानतें हैं कि ये पानी हमारे शरीर में होता कहा है. तो आइए जानतें है…

आखिर ये जो पानी हमारे शरीर में है, वो होता कहा है ?

आपको बता दें कि किडनी में, लीवर में,पेट में, मुत्राशय में और रीड की हड्डीयों में रीड़ द्रव की तरह जमा होता है. हमारे दिल और दिमाग 75 प्रतिशत पानी से बना होता है. वहीं हमारे फेफड़े में लगभग 83 प्रतिशत पानी होता है, लेकिन पूरे शरीर में सबसे ज्यादा पानी हमारे कोशिकाओं में जमा होता है.

keep these things in mind while drinking water in hindi

आपको शयद जानकर हैरानी होगी जो हमारी हड्डीयां देखने में सख्त होती है, उन में भी लगभग 31 प्रतिशत पानी मौजूद होता है. इस तरह से कुल मिलाकर देखा जाए तो हमारे शरीर को काम करने के लिए बहुत ज्यादा पानी की जरूरत होती है और इसी वजह से एक व्यक्ति खाना खाएं बिना रह सकता है लेकिन पानी पीए बिना नहीं रह सकता.

हमारे शरीर के लिए पानी बेहद जरूरी है, इसलिए हमें पता होना चाहिए कि हमें कितना पानी पीना चाहिए ? किस तरह का पानी पीना चाहिए ? किस समय पर पीना चाहिए ? कैसा पानी पीना चाहिए ?  क्योंकि अगर हमें इन सब के बारे में पता नही होता तो हमें कई परेशानियों का समना करना पड़ता है. जैसे-

keep these things in mind while drinking water in hindi

 

  • जोड़ो में दर्द
  • कब्ज
  • माइग्रेन
  • त्वाचा पर दाग-धब्बे
  • बालों का झड़ना
  • पेट और आंतों से जुड़ी समस्याएं
  • भोजन ठिक से न पचना
  • रात में अच्छी नींद न आना

 

रोजाना हमारे शरीर से कई तरह से पानी कम होता रहता है. जिस वजह से हम रोजाना 2 से 3 लीटर पानी शरीर से बहार निकाल देते है. इसलिए एक पुरुष को दिन में 2.5 से 3.5 लीटर पानी पीना चाहिए और महिला को 2 से 3 लीटर पानी पीना चाहिए.

आपको सुबह के समय उठकर 1 से 2 गिलास पानी पीना चाहिए. चाहे आपको प्यास लगी हो या नहीं लगी हो, लेकिन आपको चाय या कॉफी से पहले पानी जरूर पीना है. खाली पेट पानी पीने से हमारे आंतो की अच्छी तरह से सफाई हो जाती है. साथ ही रात भर जमा हुई मुंह की लार भी पेट में चली जाती है. आयुर्वेद के अनुसार मुंह की लार को सोने से ज्यादा भी किमती माना जाता है.

पूरे दिन इस तरह से करें पानी का सेवन

 

  • 1 ग्लास नाश्ते के आधे घंटे बाद
  • 1-1 ग्लास दिन के खाने के 40 मिनट पहले और 40 मिनट बाद
  • 2 ग्लास शाम के समय एक-एक घंटे के गैप में
  • 1-1 ग्लास रात के खाने के समय 40 मिनट पहले और 40 मिनट बाद

 

हमें खाना खाने के तुरंत पहले या फिर तुरंत बाद पानी नहीं पीना चाहिए. क्योंकि ऐसा करने से खाया हुआ भोजन पतला हो जाता है और खाना सही से पच नहीं पाता है. रात के खाना के बाद पानी पीने की जगह दूध का सेवन करें. ऐसा करने से वहीं अगर खाने के दौरान आपका पानी पीने का मन करें तो आप छाछ, फलो का जूस पी सकते है. आप रात के समय खाना के बाद पानी के जगह दूध पी सकते है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button