अभी-अभी: भारत ने पाकिस्तान को दिया मुहतोड़ जवाब, अब पाकिस्तान कभी भी…

हेलो दोस्तो, जब से पाकिस्तान ने कश्मीर के पु’ल’वा’मा पर ह’म’ला किया है तब से देशवासियों का गु’स्सा चरम पर है, लोगो मे जितना 40 सीआरपीएफ जवा’नों को खोने का ग’म है उससे कहीं ज्यादा पाकिस्तान से बदला लेने का आ’क्रोष है. ऐसे में मोदी सरकार ने फटाफट बड़े बड़े फैसले लेने शुरू कर दिये. ह’म’ले के बाद उन्होंने सबसे पहला फैसला लिया कि वर्ल्ड कप मैच में इंडिया और पाकिस्तान के बीच मैच नहीं होगा हालांकि यह बात अभी तक निश्चित नहीं हुई है लेकिन इस बात पर चर्चा ज़ोरों से चल रही हैं.

और अब मोदी सरकार ने एक और बड़ा फैसला ले लिया है, मोदी सरकार के इस फैसले से पाकिस्तान को एक बड़ा झ’टका लग सकता है लेकिन पाकिस्तान को सबक सिखाना बहुत जरूरी है प्रधानमंत्री मोदी ने कहा है कि भारत द्वारा पाकिस्तान में जो पानी जा रहा है उसे बंद कर दिया जाएगा कहा जा रहा है कि ऐसा करने से पाकिस्तान को बड़ा नुकसान उठाना पड़ सकता है.

google

नितिन गडकरी द्वारा किए गए एक ट्वीट में लिखा था कि जिस समय बंटवारा हुआ उस समय भारत और पाकिस्तान के हिस्से 3-3 नदियां आई थी लेकिन जो नदी भारत के हिस्से आई थी उसका अधिकतर पानी पाकिस्तान की तरफ ही जाता था अब सरकार ने यह फैसला लिया है कि उस पानी को रोक दिया जाएगा और यह पानी अब भारत अपने ही देश जम्मू और पंजाब को देगा.
google

जब से यह पता चला है कि पु’ल’वा’मा पर ह’म’ला पाकिस्तान ने किया है भारत सरकार ने उससे बदला लेने की ठान ली है इस कड़ी में प्रधानमंत्री मोदी ने सेना को इस बात की छूट दे दी कि जम्मू कश्मीर से सभी आ’तं’क’वा’दि’यों को उ’खाड़ फेंके. सिर्फ इतना ही नहीं मोदी सरकार ने पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा भी छीन लिया है और जो वस्तुएं पाकिस्तान से हिंदुस्तान आती थी उस पर भी टैक्स बढ़ा दिया गया है.
google

और फिर वर्ल्ड कप मैच में भी फेरबदल किया गया है ऐसा करने से पाकिस्तान पर बहुत बड़ा और गहरा असर पड़ने वाला है इस सब से पाकिस्तान की सरकार को यह एहसास जरूर होगा कि उन्होंने जो किया वह उनकी बहुत बड़ी भूल थी. ऐसा करने से भले ही वो सीआरपीएफ के 40 ज’वान वापस नहीं आ सकते हैं लेकिन पाकिस्तान को सबक सिखा कर एक बात जरूर तय हो जाएगी कि वह दोबारा ऐसी गलती करने की कोशिश नहीं करेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *