Uncategorized

इस माह 12 में 8 राशि वालों को संभल कर रहना पड़ेगा, वरना आ जाएगी ये बड़ी आफत…

मासिक राशिफल – सितम्बर, 2019  पंडित पीएस त्रिपाठी

मेष राशि-भौतिक संसाधनों में वृद्दि होगी जिससे परिवार में प्रसन्नता का माहौल रहेगा। किसी धार्मिक कार्यक्रम में आप हिस्सा लेंगे जिससे नकारात्मक विचारो में कुछ कमी आयेगी। आर्थिक पक्ष- आर्थिक स्थिति सामान्य से बेहतर रहेगी। स्वास्थ्य- मौसमी बीमारी के अलावा कोई ज्यादा स्वास्थ्यगत परेशानी ना स्वयं को ना ही परिवार को आ रही है। कैरियर व व्यवसाय- आपके निर्णय की वजह से आप व्यापार को एक नई गति प्रदान करने में कामयाब होंगे। नयें लोगों को जाब मिलने के आसार है।वैवाहिक स्थिति- जीवन साथी से कार्य के कारण दूरी बन सकती है, उपाय –सुंदर कांड का पाठ करें ..गाय को गेहूं भिगोकर खिलाएं.. हनुमानजी के दर्शन करें ..

वृष राशि-वृष राशि वालों के लिए सितम्बर का महीना अच्छा साबित होगा। कार्य पक्ष में मजबूती आयेगी और रूके हुये तथा योजनाओं में गतिशीलता आयेगी। धार्मिेक कार्यों की ओर रूझान बढ़ेगा जिससे आत्मशक्ति में वृद्धि होगी। पारिवारिक स्थितिया पहले की अपेक्षा काफी अनुकूल साबित होगी। सगे-सम्बनिधयों से कुछ लाभ भी हो सकता है। आर्थिक पक्ष- माह के उतरार्ध के बाद धन का स्वामी आर्थिक पक्ष के लिए काफी अनुकूल रहेगी। अचानक कुछ धन का लाभ होगा। स्वास्थ्य- कुछ लोगों को पैरो व मासपेशियों से सम्बनिधत शिकायत हो सकती है। कैरियर व व्यवसाय- व्यवसायी वर्ग को लाभ कमाने के अच्छे अवसर प्राप्त होंगे। नौकरी वर्ग के लोगो को अपने बॉस के सामने बात करने में ना हिचकिचायें। वैवाहिक स्थिति- दाम्पत्य जीवन में स्थितिया कुल मिलाकर सामान्य बनी रहेंगी। उपाय-राहु की शांति के लिए राहु मंत्र का जाप करें ..सूक्ष्म जीवो की सेवा करें ..तिल के लड्डू बांटें ..

मिथुन राशि-मिथुन राशि वालों के लिए यह महीना बेहतरीन साबित होगा। इस मास कार्यों में आपका मन लगेगा एंव दूसरों से प्रभावित होकर आप वैसा ही कार्य करने के इच्छुक होंगे। जिददी स्वभाव व अक्रामक रूख तथा शीघ्र निर्णय लेने वाली प्रवृत्ति से कई बार आपको हानि का सामना करना पड़ सकता है। लग्नेश भाव का स्वामी बुध तीसरे स्थान में सूर्य के साथ बेवजह तनाव उत्पन्न कर सकता जिस वजह से नींद में कमी आयेगी। आर्थिक पक्ष- किये गये कार्यों का भुगतान होगा एंव धन के नये संसाधनों को जुटाने में सफलता भी मिल सकती है। स्वास्थ्य- शारीरिक व्याधिया उत्पन्न होगी जिसमें आपका धन अधिक खर्च हो सकता है। चोट लग सकती है या फिर कोई रोग होने की आशंका है। कैरियर व व्यवसाय- कार्य व व्यवसाय में रूकावटें एंव बाधायें आयेंगी। बहुत से बनते हुये कार्य भी ऐन मौके पर बिगड़ सकते है। वैवाहिक गु रू व राहु का एक साथ सप्तम भाव में होना इस बात का सूचक है कि दाम्प्त्य जीवन में वैचारिक मतभेद बने रहेंगे। उपाय-गणपति अथर्वशीर्ष का पाठ करें ..इलायची खाएं और खिलाएं ..108 तुलसी गणेश जी में अर्पित करें ..

कर्क राशि-कार्य पक्ष में मजबूती आयेगी जिससे कुछ लाभ के अवसर भी आयेंगे। किसी महत्वपूर्ण फैसले पर सोच समझकर ही निर्णय ले। आर्थिक पक्ष- अचानक व्यय बढ सकता है, जिसकी वजह से आर्थिक बजट गड़बड़ा सकता है। स्वास्थ्य- आपका स्वास्थ्य ठीक रहेगा किन्तु माता पक्ष को शारीरिक कष्ट हो सकता है। कैरियर व व्यवसाय- कुछ व्यवधान व समस्यायें आयेंगी किन्तु माह के अन्त में उनका समाधन भी हो जायेगा। जाब से जुड़े लोग संयम बरतें। वैवाहिक स्थिति- पुराने विवादों का निपटारा होकर फिर से सम्बन्धों में मधुरता आयेगी। उपाय-शिव मंत्र का जाप करें ..चीनी चावल का दान करें ..चंद्रमा को अर्ध्य दें ..

सिंह राशि-लग्न का सूर्य आपको इस महीने में बहुत अच्छा फल देगा। जो लोग लोहा या इलेक्ट्रानिक का कार्य करते है उनके लिए अच्छा रहेगा। कार्य के प्रति आप सजगता रखें वरना जरूरी कार्य छूट सकते हैं। घर के आकर्षण की वस्तुओं की खरीददारी हो सकती है। आर्थिक पक्ष- आर्थिक स्थिति में कोई ज्यादा अंतर नहीं दिखाई देगा। सर्विस वर्ग के लोगो को सोच विचार कर खर्च करना चाहिए। स्वास्थ्य- स्वास्थ्य में कुछ शिथिलिता रहेगी। कैरियर व व्यवसाय- प्रतिस्पर्धा के दौर में कुछ कठोर कदम उठाने होंगे। कैरियर की दृष्टि से यह समय संघर्षशील रहेगा। वैवाहिक स्थिति- किसी दूसरे की बात पर विश्वास करके अपने साथी झगड़े न। उपाय-सूर्य को अर्ध्य देकर दिन की शुरुआत करें ..गेहू का दान करें ..सूर्य गायत्री मंत्र का जाप करें .. कन्या राशि-शारीरिक क्षमता का विकास होगा जिससे आप रचनात्मक कार्यों को अंजाम देने में कामयाब होंगे। व्यापार में कोई बड़ा लेन-देन न करें। कैरियर में कड़ी प्रतिस्पर्धा का सामना करना पड़ेगा। आर्थिक पक्ष – आय व व्यय में समानता बनी रहेगी। आमदनी का कुछ हिस्सा बुजुर्गों पर खर्च करना पड़ेगा।  स्वास्थ्य- शरीर में सिर दर्द की शिकायत हो सकती है। साथ ही मानसिक शांति में कुछ कमी आयेगी। कैरियर व व्यवसाय- व्यापार में धन के रूकने से परेशानियॉ आ सकती हैं। लेनदेन में सावधानी रखें तथा भरोसे पर कार्य ना करें। वैवाहिक स्थिति- वैवाहिक जीवन में बच्चो के कारण विवाद पैदा हो सकता है। उपाय-गुरु मंत्र का जाप करें.. बेसन के लड्डू का प्रसाद बांटें .. कृष्ण जी पर पीले पुष्प अर्पित करें ..

तुला राशि-नवयुवकों के लिए यह महीना अच्छा रहेगा। अत्यधिक व्यस्तता रहने से मन प्रसन्न रहेगा। कार्य योजनाओं के प्रति सतर्कता बरतनें की आवश्यकता है। आर्थिक पक्ष- आय में बढ़ोत्तरी के आसार है। सोच समझकर ही धन का निवेश करें। स्वास्थ्य- बदलते मौसम के मिजाज को देखकर अस्थमा रोगियों को विशेष सावधानी बरतनी होगी। कैरियर व व्यवसाय- रोजगार में प्रगति की नई उम्मीद बनेंगी। नौकरी में अच्छे अवसर प्राप्त होंगे। वैवाहिक स्थिति- जीवन साथी से आप बहुत कुछ चाहेंगे, परन्तु इस समय आपको निराशा ही हाथ लगेगी। उपाय-शनि मंत्र का जाप करें ..तिल का दान करें ..दीप जलाकर पीपल के पेड़ पर रखें .. वृश्चिक राशि-जल्दबाजी में कोई भी कार्य न करें वरना हानि हो सकती हैं। सामाजिक कार्यों में बाधा आयेगी परन्तु विचलित न हो सफलता आपको ही प्राप्त होगी। विरोधियों के प्रति सतर्कता बरतें। आर्थिक पक्ष- कपड़ों या अन्य पर अत्यधिक व्यय के संकेत है। धन के लेन-देन में सावधानी अपेक्षित है। स्वास्थ्य- अधिक गरिष्ठ भोजन से परहेज करें वरना पेट खराब हो सकता है। कैरियर व व्यवसाय- व्यापार में लिखित समझौता ही आपके लिए हितकारी रहेगा। प्राइवेट जाब करने वालों को कुछ लाभ हो सकता है। वैवाहिक स्थिति- दाम्पत्य जीवन में स्थितिया सामान्य रहेगी। उपाय-काले-सफ़ेद कुत्ते को भोजन का हिस्सा दे या घर में कुत्ता पालें। काले और सफेट तिल जल में प्रवाहित करें। खटाई वाली चीजें नींबू , इमली या गोल-गप्पे लड़कियों को खुलायें। केतु मंत्र का जाप करें ..

धनु राशि-वर्तमान ग्रहों की स्थिति के अनुसार आपका यह महीना सन्तान के प्रति चिंता का रहेगा। वाणी में संतुलन बनायें रखें। नयें सम्बन्धों में प्रगाढ़ता आयेगी। पुराने रिश्तो में कटुता आएगी .. चोट मोच से बचने के लिए वाहन पर नियन्त्रण रखें . आर्थिक पक्ष- सौन्दर्य प्रसाधनों पर धन का व्यय अधिक होगा। आय में सामान्य स्थिति बनी रहेगी। स्वास्थ्य- कुछ लोगों को गले के रोग होने की आशंका है। अत: सावधानी बरतें। कैरियर व व्यवसाय- व्यवसाय के प्रति सर्तकता बरतें अन्यथा किसी से अनुबन्ध टूट सकता है। कैरियर में किसी कारण गतिरोध आ सकता है। वैवाहिक स्थिति- घरेलू तनाव की वजह से आपस में तकरार हो सकती है। उपाय-हनुमान चालीसा का पाठ करें ..हनुमानजी पर चमेली का तेल अर्पित करें ..

मकर राशि-मकर राशि वालों के लिए ग्रह अनुकूल रहेंगे.. इसलिए इस समय परिस्थितिया आपके अनुकूल रहेगी। एनजीओ से सम्बनिधत कोई कार्य मिल सकता है। राजनीतिज्ञो से नजदीकिया रखना आपके लिए हितकारी रहेगा। आर्थिक पक्ष- धन की स्थिति अच्छी रहेगी। आमदनी के कुछ नयें स्रोतों में भी इजाफा होगा। स्वास्थ्य- वीपी वाले लोग स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें। कैरियर व व्यवसाय- नौकरी वाले लोगों को कुछ अर्थ लाभ हो सकता है। रोजगार में उन्नति के नयें अवसर प्राप्त होंगे। वैवाहिक स्थिति- जीवन साथी से मेल-जोल बना रहेगा। उपाय –ॐ नम: शिवाय का पाठ करें ..दूध से अभिषेक करें.. कुम्भ राशि-रूके हुये कार्यों में प्रगति होगी जिससे मन कुछ प्रसन्न रहेगा। राजकीय कर्मचारियों को लाभ मिलने की सम्भावना है। समय-सीमा पर अपना कार्य कर लें। आर्थिक पक्ष- कुछ लोगों की कमाई इन दिनों अच्छी होगी। स्वास्थ्य- शारीरिक उर्जा में वृद्धि होने से मन थोड़ा सा प्रसन्न होगा। कैरियर व व्यवसाय- प्राइवेट जाब वाले लोग अपने बास से मधुरता बनायें रखें। वैवाहिक स्थिति- जीवन साथी के विचारों से कुछ लाभ हो सकता है। उपाय- शुक्रवार को किसी विवाहित स्त्री को सुहाग का सामान दान करें। सुहाग का सामान जैसे चूड़ियां, कुमकुम, लाल साड़ी। इस उपाय से देवी लक्ष्मी प्रसन्न  होती हैं। मां लक्ष्मी को कमल के पुष्पों की माला चढ़ायें, मंदिर में आरती पूजा के लिए गाय का घी दान करें, ऊँ शुं शुक्राय नम: रोज रात में मंत्र का 1 माला जाप करें

मीन राशि-भाग्य पक्ष मजबूत रहेगा। नयें व्यकितयों से जान पहचान बढ़ेगी। आप अत्यधिक भावुकता से बचें। कार्य योंजनाओं में कुछ प्रगति होगी जिससे मन कुछ हल्का होगा। मित्रों के सहयोग से कुछ कार्य पूर्ण होंगे। आर्थिक पक्ष- आय की स्थिति में कुछ गिरावट होगी जिससे आर्थिक बजट गड़बड़ा सकता है। स्वास्थ्य- कुछ लोगों को कब्ज की शिकायत बनी रहेगी। इसलिए अपने खान-पान पर ध्यान दें। कैरियर व व्यवसाय- नौकरी वाले जातकों को पद प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। अपने व्यवसाय को दिमाग से चलायें न कि दिल से। वैवाहिक स्थिति- जीवन साथी की व्यर्थ की बातों से मन कुछ खिन्न हो सकता है। उपाय-शनिवार को पीपल के पेड़ की पूजा करनी चाहिए और उस पर सरसों का तेल चढ़ाना चाहिए। भगवान शनिदेव की पूजा में इस मंत्र का जाप करते हुए उन्हें अर्घ्य देना चाहिए-ॐ शनिदेव नमस्तेस्तु गृहाण करूणा कर| अर्घ्यं च फ़लं सन्युक्तं गन्धमाल्याक्षतै युतम्||

Related Articles

146 Comments

  1. Pretty section of content. I simply stumbled upon your site and in accession capital to assert that I
    get in fact loved account your weblog posts. Anyway I’ll be subscribing to“강남풀싸롱”your feeds or even I achievement you get entry to constantly rapidly.

  2. Hello! This is kind of off topic but I need some guidance from an established blog
    hyperlink to your host I’m not sure why but this web site is loading extremely slow for me“성인망가” I’m thinking about making my own but I’m not sure where to begin.I wonder how so much effort you place to make one of these fantastic informative web site.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button