Uncategorized

शनिवार की सुबह ही घर से बाहर कर दें ये सभी सामान, शनिदेव की कृपा से होगा सभी कष्टों का नाश ..

हिन्दू धर्म मानने वालों के लिए शनिवार का दिन बहुत ख़ास होता है। इस दिन दो देवताओं की पूजा साथ-साथ की जाती है। शनिवार के दिन के बारे में बहुत सारी लोकमान्यताएं हैं। कई मान्यताएं प्राचीनकाल से चली आ रही हैं। कुछ लोग इन मान्यताओं को आँख मूंदकर मान लेते हैं। लोगों को इस बात का डर रहता है कि कोई गलती हो जाने पर शनिदेव के कोप का भागी बनना पड़ेगा।

हर उस बात को लोग आसानी से मान लेते हैं, जिसका सम्बन्ध शनिवार और शनिदेव से होता है। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार घर पर शनिदेव की कृपा होने से घर में सुख-शांति बनी रहती है। लेकिन अगर घर में शनिदेव का वास हो जाए तो इससे घर में नकारात्मक उर्जा का संचार होता है। बुजुर्गों का मानना है कि घर के कबाड़ पर शनिदेव का अधिपत्य स्थापित होता है, इसलिए शनिवार के दिन कबाड़ को घर से बाहर कर देने में ही भलाई होती है।

शनिवार के दिन कबाड़ को कर दें घर से बाहर:

ज्योतिषशास्त्र पर आधारित हिन्दू धर्मग्रन्थ जातक पारिजात में यह कहा गया है कि शनिवार के दिन अगर आप अपने घर का कबाड़ बेच देते हैं तो तनाव, क्लेश और अस्वस्थता दूर हो जाती है। शनिदेव, कबाड़, बेकार पड़े हुए सामान और सभी पुरानी वस्तुओं के करक ग्रह हैं। जिन लोगों की कुंडली में शनिग्रह की पीड़ा का योग चल रहा हो, उन्हें अपने घर से शनिवार के दिन कबाड़ को जरुर बाहर कर देना चाहिए।

नीले और भूरे कपड़े सफाई करने वाले को करें दान:
शनिवार के दिन सुबह-सुबह पुराने सभी कपड़े, पुराने स्टील के बर्तन और पुरानी लकड़ी का फर्नीचर दान करने से आपके जीवन की सभी बाधाएं दूर हो जाती हैं। शनिवार के दिन शाम के समय बंद पड़ी घड़ियाँ, जंग लगा हुआ लोहे का सामान, नीले और कपड़े किसी सफाई करने वाले को दान में दे देना चाहिए। ऐसा करने से तंत्र-मन्त्र से छुटकारा मिलता है।

शनिवार के दिन इन बातों का रखें ध्यान:

सुबह-सुबह पुरे घर की सफाई करें। इस बात का ध्यान रखें की घर का कोई कोना छूटना नहीं चाहिए।

घर की छत पर पड़े हुए कबाड़ और बेकार सामानों को बाहर कर दें।

बिजली के खराब हो चुके उपकरणों को या तो ठीक करवा लें या उन्हें कबाड़ में बेच दें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button