समीर वानखेड़े ही नहीं इन अफसरों के नाम से भी थर-थर कांपते हैं ड्रग्स माफिया, जानिए इन अधिकारियों की प्रोफाइल

mumbai cruise drugs case officers

मुंबई : एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद से बॉलीवुड की ड्रग्स मंडली नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB)की रडार पर रहा है। NCB पिछले एक साल में बॉलीवुड की कई हस्तियों से पूछताछ कर चुकी है। मुंबई से गोवा जा रहे क्रूज पर रेड मारकर NCB एक बार फिर चर्चा में है। इस कार्रवाई में शाहरुख खान के बेटे समेत कई हाई प्रोफाइल लोगों के पास से ड्रग्स बरामद हुआ है। इस पूरे ऑपरेशन को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के तेजतर्रार अधिकारियों ने पर्दे के पीछे रहकर अंजाम दिया है। हर कोई उनके बारें में जानना चाहता है। आइए, जानते हैं उन ऑफिसर्स के बारें में जिनका नाम सुनते ही ड्रग्स माफिया और क्रिमिनल थरथराने लगते हैं…

ये उस टीम के मुखिया हैं जिसने शिप ड्रग्स पार्टी ऑपरेशन को अंजाम दिया है। महाराष्ट्र के रहने वाले समीर वानखेड़े (sameer wankhede) 2008 बैच के IRS अधिकारी हैं। भारतीय राजस्व सेवा ज्वॉइन करने के बाद उनकी पहली पोस्टिंग मुंबई के छत्रपति शिवाजी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर बतौर डिप्टी कस्टम कमिश्नर हुई थी। उनकी काबलियत की वजह से ही उन्हें बाद में आंध्र प्रदेश और फिर दिल्ली भी भेजा गया। उन्हें नशे और ड्रग्स से जुड़े मामलों का स्पेशलिस्ट माना जाता है। बॉलीवुड ड्रग्स कनेक्शन मामले में दाऊद इब्राहिम की गैंग के कई मेंबर की गिरफ्तारी खुद समीर वानखेड़े ने की थी। सारा अली खान और श्रद्धा कपूर से पूछताछ की और अब शाहरुख खान के बेटे की गिरफ्तारी के बाद चर्चा में हैं। समीर के पिता भी मुंबई पुलिस से जुड़े हैं। इनकी वाइफ गंगाजल फिल्म में काम कर चुकी हैं।

mumbai cruise drugs case, officers Sameer Wankhede, Vishwa Vijay Singh, Ashish Rajan Prasad who raided the cruise

NCB के बेस्ट ऑपरेशन को अंजाम देने के लिए सम्मानित हो चुके विश्व विजय सिंह NCB मुंबई यूनिट के सुपरिटेंडेंट है। वो लखनऊ के रहने वाले हैं। विश्व विजय सिंह ने ही बॉलीवुड सुपर स्टार शाहरुख खान के बेटे आर्यन को सबसे पहले न केवल हिरासत में लिया बल्कि उसकी गिरफ्तारी खुद अपने हाथों से NCB के दस्तावेजों में दर्ज की। इन्होंने ही सुशांत सिंह मौत मामले में रिया चक्रवर्ती को गिरफ्तार किया था। पिछले 10 साल से ये बॉलीवुड के नामी गिरामी हस्तियों से पूछताछ कर चुके हैं।

mumbai cruise drugs case, officers Sameer Wankhede, Vishwa Vijay Singh, Ashish Rajan Prasad who raided the cruise

शिप ड्रग्स पार्टी ऑपरेशन को अंजाम देने वाले ऑफिसर्स में आशीष राजन का नाम भी शामिल है। ये वो इंटेलीजेंस ऑफिसर हैं जो 2 अक्टूबर को शिप पर मौजूद थे और खुद अपने हाथों से ड्रग्स की खेप बरामद की। आशीष इसके पहले CISF की स्पेशल इंटेलीजेंस यूनिट में काम कर चुके हैं । इन्हें मिनिस्टर एक्सीलेंस सर्विसेज मेडल भी मिला है। आशीष डेपुटेशन पर 2017 से NCB में हैं। उन्हें इंटेलिजेंस कलेक्शन में महारत हासिल है।

mumbai cruise drugs case, officers Sameer Wankhede, Vishwa Vijay Singh, Ashish Rajan Prasad who raided the cruise

महाराष्ट्र ATS के पूर्व मुखिया रहे दबंग पुलिस ऑफिसर हिमांशु रॉय (HIMANSHU ROY) हालांकि अब दुनिया में नहीं हैं लेकिन एक दौर था जब इनके नाम से क्राइम करने वालों के हाथ-पांव फूल जाते थे। इस दबंग पुलिस ऑफिसर का खौफ अंडर वर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम में भी था। एनकाउंटर स्पेशलिस्ट कहे जाने वाले हिमांशु की पहली पोस्टिंग 1991 में मालेगांव में हुई थी, जहां उन्होंने बाबरी मस्जिद विध्वंस के बाद मुंबई में जो हालात बिगड़े थे, उस समय वहां के हालात को संभाला था। हिमांशु रॉय इकलौते ऐसे पुलिस ऑफिसर थे, जिन्हें Z+ सुरक्षा दी गई थी। कहा जाता है कि भारत में दाऊद की अब तक जितनी भी संपत्तियां जब्त हुई हैं, उसके पीछे भी हिमांशु रॉय का ही हाथ था। इंडियन मुजाहिद्दीन के मुखिया यासीन भटकल के मुंबई और पुणे ब्लास्ट मामले की जांच 2013 में हिमांशु रॉय को सौंपी गई थी।

mumbai cruise drugs case, officers Sameer Wankhede, Vishwa Vijay Singh, Ashish Rajan Prasad who raided the cruise

बिहार कैडर के IPS शिवदीप लांडे (shivdeep lande) फिलहाल महाराष्ट्र में ATS के DIG के रूप में कार्यरत हैं। शिवदीप लांडे 2006 बैच के IPS अफसर हैं। शिवदीप लांडे अपराधियों से सीधे लोहा लेने के लिए जाने जाते हैं। बिहार के रोहतास में वे पुलिस कप्तान रहते अवैध खनन माफियाओं से सीधे भीड़ गए थे। अपराधियों ने उनपर फायरिंग कर दी।

mumbai cruise drugs case, officers Sameer Wankhede, Vishwa Vijay Singh, Ashish Rajan Prasad who raided the cruise

बहादुर IPS अफसर ने अपनी जान की परवाह किए बिना डटकर माफियाओं का सामना किया। इस दौरान 500 लोगों को गिरफ्तार किया गया था। जनवरी, 2015 में शिवदीप पटना के डाक बंगला चौराहे पर घूस मांग रहे इंस्पेक्टर सर्वचंद को फिल्मी अंदाज में दुपट्टा ओढ़कर पकड़ने के मामले में चर्चा में आए थे। शिवदीप लांडे के नाम सुनकर बड़े-बड़े माफिया छिप जाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *