यूपी पुलिस से भिड़ती दिखीं प्रियंका गांधी, फिल्म मेकर बोले– 70 सालों के राज पाट छिन जाने पर ऐसे ही सड़कों पर देते हैं गाली, फिर जो हुआ…

पीड़ित परिवार से मिलने लखीमपुर खीरी जाने की कोशिश कर रही कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को पुलिस ने रोका तो उन्होंने सख़्त तेवर दिखाते हुए कहा कि वारंट दिखाओ और फिर गिरफ्तार करके ले जाओ।

किसानों की हत्या के बाद लखीमपुर खीरी जा रही कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी यूपी पुलिस पर भी विफरती दिखाईं पड़ी। पीड़ित परिवार से जा रहीं प्रियंका गांधी को जब यूपी पुलिस रोकने लगी तो उन्होंने गुस्सा आते हुए कहा कि तुम्हारे प्रदेश में कानून नहीं होगा… लेकिन इस देश में कानून है। उनके इसी वीडियो को शेयर करते हुए फिल्ममेकर अशोक पंडित ने तंज कसते हुए लिखा, 70 सालों के राजपाट छिन जाने पर ऐसे ही सड़कों पर गाली देते हैं।

उन्होंने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से लिखा, जब किसी का 70 सालों के बाद राज पाठ छिन जाता है तो वो इसी तरह सड़कों पर गरियाता ता रहता है। ईश्वर इनको सद्बुद्धि दे। अशोक पंडित के ट्वीट पर तमाम सोशल मीडिया यूजर्स ने अपनी प्रतिक्रिया भी दी है। @RanjanKSharma टि्वटर अकाउंट से लिखा गया, ये बहुत ज्यादा ओवर एक्टिंग कर रही हैं। पुलिस को भी पुलिस की तरह व्यवहार करना चाहिए।

एक ट्विटर यूजर लिखते हैं कि योगी आदित्यनाथ का राज है यहां इतनी अकड़ काम की नहीं है। @deshbhakt टि्वटर हैंडल से लिखा गया, इनकी हताशा समझ में आती है। राज पाठ चला जाए तो इंसान ऐसे ही व्यवहार करता है। @Shubjash_online टि्वटर हैंडल से लिखा गया कि इतनी छटपटाहट सत्ता पाने की और उस पर इतना घमंड? प्रियंका मैडम ये तो नहीं चलेगा। एक ट्विटर यूजर प्रियंका गांधी के वीडियो पर लिखते हैं कि थोड़ा राजस्थान के कानून व्यवस्था के बारे में भी बात कर लेती।

@MarwSubhash टि्वटर हैंडल से लिखा गया कि बहुत छटपटा रही है जरा उनसे पूछा जाए कि इन की दादी ने इमरजेंसी में कितने लोगों को किडनैप कराया था इनको कुछ पता भी है। एक ट्विटर यूजर लिखते हैं, लीडर वाले गुड तो नजर नहीं आ रहे हैं लेकिन गुंडों जैसी हरकतें बिल्कुल कर रही हैं।

जानकारी के लिए बता दें कि इस वीडियो में प्रियंका गांधी वाड्रा यह भी कह रही है कि ये जो जबरदस्ती घेर रहे हो, ढकेल रहे हो न… इसमें फिजिकल असॉल्ट, अटेम्प्ट टू किडनैप, किडनैप, अटेम्प्ट टू मोलेस्ट…..समझते हो न। छू कर देखो मुझे, जाकर अपने अफसरों से, अपने मंत्रियों से वारंट लाओ। महिलाओं को आगे मत करो, महिलाओं से बात करना सीखो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *