सौभाग्य से वैधृति योग तक, शारदीय नवरात्रि पर बन रहे इस साल दुर्लभ संयोग, ये नए काम करें शुरू

Shardiya Navratri 2021shubh sayog: अश्विन शुक्‍ल पक्ष की प्रतिपदा से शारदीय नवरात्रि प्रारंभ हो रहे हैं. 7 अक्टूबर 2021 दिन गुरुवार से मां शैलपुत्री के पूजन से नवरात्रि प्रारंभ होगें. इस बार के नवरात्रि खास माने जा रहे हैं, कारण है कि नवरात्रि में पांच रवियोग के साथ सौभाग्य योग और वैधृति योग बन रहा है.

Shardiya Navratri 2021: अश्विन शुक्‍ल पक्ष की प्रतिपदा से शारदीय नवरात्रि प्रारंभ हो रहे हैं. 7 अक्टूबर 2021 दिन गुरुवार से मां शैलपुत्री के पूजन से नवरात्रि प्रारंभ होगें. इस बार के नवरात्रि खास माने जा रहे हैं, कारण है कि नवरात्रि में पांच रवियोग के साथ सौभाग्य योग और वैधृति योग बन रहा है. इस वहज से इस नवरात्रि नए कार्यों की शुरुआत शुभ रहेगी. दुर्गा मां का जातकों को आशीर्वाद प्राप्त होगा और शुरू किए गए कार्यों में सफलता मिलेगी. इसके साथ ही यदि आप कुछ नई चीजें खरीदने के लिए सोच रहे हैं, तो ये समय आपके लिए अतिउत्तम रहेगा.

इन कार्यों के लिए शुभ समय

ज्योतिषाचार्य डॉ.अरविंद मिश्र ने बताया कि पितृ पक्ष के दौरान कोई नया कार्य करना या कोई नई वस्तु खरीदना शुभ नहीं माना जाता है, लेकिन इसके बाद शुरू होने वाले नवरात्रि में लोग नए कार्य भी करते हैं और प्रोपर्टी से लेकर नए वाहन व नई चीजों की खरीद फरोख्त भी जमकर करते हैं. वैसे तो देवी मां के इन पवित्र दिनों में शुरू किया गया हर कार्य फलदायी होता है, लेकिन इस साल कुछ कार्यों के लिए ये नवरात्रि बेहद शुभ माने जा रहे हैं. उन्होंने बताया कि इस साल नवरात्रि में दो सौभाग्य योग, एक वैधृति योग और 5 रवियोग बन रहे हैं, जिसके चलते इन दिनों नए कार्यों की शुरुआत करने, नया घर या वाहन खरीदना शुभ रहेगा. इतना ही नहीं फर्नीचर आदि खरीदने के लिए भी ये समय शुभ रहेगा.

आठ दिन की नवरात्रि

इस साल 7 अक्टूबर 2021 दिन गुरुवार से नवरात्रि प्रारंभ हो जाएंगे. उन्होंने बताया कि एक ही दिन में दो तिथियां पड़ने से शारदीय नवरात्रि 8 दिन तक चलेंगे. 9 अक्टूबर दिन शनिवार को तृतीया सुबह 7 बजकर 48 मिनट तक रहेगी, इसके बाद चतुर्थी शुरू हो जाएगी, जो अगले दिन 10 अक्टूबर दिन रविवार को सुबह 5 बजे तक रहेगी. इस बार देवी मां के पूजन की शुरुआत गुरुवार के दिन से हो रही है, जो पूजा व आध्यात्मिक उन्नति के लिए शुभ है. नवरात्रि की शुरुआत चित्रा नक्षत्र में हो रही है, जिससे साधाना, साहस और संतोष प्राप्त होगा.

शारदीय नवरात्री 2021 घटस्थापना मुहूर्त

ज्योतिषाचार्य डॉ.अरविंद मिश्र ने बताया कि 7 अक्टूबर 2021 दिन गुरुवार को कलश स्थापना होगी. इस दौरान दौरान तुला राशि का चंद्रमा, चित्रा नक्षत्र, करण किस्तुन रहेगा. कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त सुबह 6 बजकर 17 मिनट से लेकर सुबह 07 बजकर 07 मिनट तक रहेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *