पत्रकार के सामने शिवराज़ की बोलती हुई बंद, सवाल ऐसा पूछा कि मामा ने कहा…

भोपाल: ऐसा माना जाता है कि मध्य प्रदेश भाजपा में कैलाश विजयवर्गीय का क़द बहुत बड़ा है. ऐसे में ताज़ा मामला आने के बाद भी उन पर पार्टी किसी तरह की कोई कार्यवाही करेगी ऐसा लगता नहीं है. इस मुद्दे पर भाजपा के बड़े नेता भी मीडिया में किसी तरह का कोई बयान देने से बच रहे हैं. वहीं मध्य प्रदेश की सियासत इसको लेकर गरमाई हुई है.

वहीँ अब एक विडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमें मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इस सवाल से बचते नजर आ रहे हैं. उल्बीलेखनीय है कि भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के बेटे और मध्य प्रदेश के विधायक आकाश विजयवर्गीय के एक अधिकारी को बल्ले से पी’टने के मुद्दे पर अधिकतर भाजपा नेता चुप्पी साधे हुए हैं. वहीं सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से सवाल पूछे गए तो उनको कोई जवाब नहीं सुझा.

एक चैनल के पत्रकार ने जब भाजपा नेता शिवराज सिंह चौहान से उनकी पार्टी के विधायक की गुं’डागर्दी के कारनामे पर सवाल पूछा तो वो इस सवाल पर बचते नज़र आए. जब उनसे पत्रकार ने सवाल किया तो वो बस धन्यवाद ही कहते नज़र आये. पत्रकार ने उनसे पूछा कि पूरा देश इस मुद्दे पर आपके विचार जानना चाहता है क्योंकि आप बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं में से एक हैं.

पहले तो पूर्व सीएम सवाल को टालने की कोशिश करते रहे लेकिन कई बार सवाल दोहराने के बाद उन्होंने कहा कि आज मैं सदस्यता के काम से महाराष्ट्र में था,कल तेलंगाना में था.आकाश इस मामले में अपना रुख स्पष्ट कर चुके हैं इसलिए इसके अतिरिक्त मुझे कुछ नहीं कहना है. पत्रकार ने पूछा तो इसे आपका समर्थन माना जाए? इस पर पूर्व सीएम लगातार पत्रकार को धन्यवाद कहते रहे और उनके सभी सवालों को टालते रहे।

पूर्सीव एम के जवाब ने देने से साफ है कि वह इस मामले पर जवाब देने में कतरा रहे हैं।इससे पहले एक न्यूज चैनल के साथ बातचीत में कैलाश विजयवर्गीय अपने बेटे का बचाव करते हुए सवाल पूछने वाले एंकर पर ही उल्टा बरस पड़े थे और एंकर कीऔकात बताने लगे थे.इसका वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ था.


गौरतलब है कि आकाश की इस मारपीट को लेकर बीजेपी बैकफुट पर है और गृहमंत्री अमित शाह ने इस मामले में पार्टी से रिपोर्ट मांगी है.हालांकि, इस मुद्दे पर बीजेपी के नेता कुछ भी बोलने से कतरा रहे हैं. जाने मामला-निगम अधिकारी अमला गंजी कंपाउंड में एक जर्जर मकान को तोड़ने पहुंचे थे.

इसी दौरान स्थानीय लोग और अपने समर्थकों के साथ मिलकर आकाश ने दो अधिकारियों से मारपीट की थी,कैलाश विजयवर्गीय का बेटा इंदौर-3 विधानसभा सीट से विधायक है.घटना के बाद पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया।इंदौर की अदालत ने जमानत देने से इनकार करते हुए आकाश को 11 जुलाई तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया जाए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *