बीजेपी के इस फैस’ले से नारा’ज शि’वसेना कार्यकर्ताओं ने उठाया ये बड़ा कद’म, बदल सकते हैं सि’या’सी समीकरण

महाराष्ट्र में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले केंद्र में सत्तारूढ़ एनडीए की सहयोगी पार्टी शिवसेना को एक बड़ा झ’ट’का लगने की खबर सामने आ रही है। खबर के मुताबिक शिवसेना के 26 पार्षदों और करीब 300 पार्टी कार्यकर्ताओं ने इ’स्ती’फा दे दिया है। बताया जा रहा है कि इन सब ने शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे को अपना इ’स्ती’फा भेज दिया है।

गौरतलब है कि महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी में इतने बड़े स्तर पर का’र्यक’र्ताओं और नेताओं द्वारा इ’स्ती’फा दिए जाना मु’श्कि’लों भरा सा’बित हो सकता है। आपको बता दें कि जिन नेताओं और कार्यकर्ताओं ने पार्टी से इस्तीफा दिया है। दरअसल वह विधानसभा चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना में हुए सीटो के बं’टवा’रे को लेकर ना’रा’ज चल रहे थे। हालांकि अब तक यह जानकारी सामने नहीं आई है कि शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने इन पार्षदों और का’र्यकर्ता’ओं के इ’स्ती’फे को स्वीकार कर लिया है या नहीं।


आपको बता दें कि महाराष्ट्र में 21 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव के लिए मत’दान होने वाला है और राज्य में आचार संहिता लागू कर दी गई है। 21 अक्टूबर को म’तदा’न होने के बाद वोटों की गिनती 24 अक्टूबर को होगी। शिवसेना और भारतीय जनता पार्टी के बीच 288 सीटों के बंटवारे के बाद शिवसेना 124 सीटो पर चुनाव लड़ रही है, जबकि उसकी ग’ठबं’धन सहयोगी भाजपा ने 150 सीटों पर उ’म्मी’दवार उतारे हैं। बाकी सीटें भाजपा के हिस्से से छोटे दलों के लिए छोड़ी गई हैं।

दोनों पार्टियों में हुए सीटो के इस बं’टवा’रे को लेकर शिवसेना के कार्यकर्ता और कई नेता ना’रा’ज चल रहे हैं। इससे पहले साल 2014 में हुए महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में 288 विधानसभा सीटों में से भारतीय जनता पार्टी के पास 122 सीटें आई थी और बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभ’री थी। वहीं, कांग्रेस 42 सीटों के साथ तीसरे स्थान पर खि’स’क गई।

इसके अलावा, शिवसेना 63 सीटों के साथ दूसरे नंबर पर रहने वाली पार्टी थी। शरद पवार की राकांपा को 41 सीटें मिली थीं। गौरतलब है कि महाराष्ट्र के साथ-साथ हरियाणा में थी विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। जिसके लिए भारतीय जनता पार्टी पूरे जोरों शोरों के साथ तैयारियों में जुटी हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *