सुब्रमण्यम स्वामी ने भाजपा को बताया लोकतंत्र के लिए ख़’तरा, अचानक कांग्रेस की तारीफ़ में…

एक तरफ़ जहां कई राज्यों में कांग्रेस के विधायक भाजपा में आने का मन बना रहे हैं तो दूसरी ओर भाजपा को अपनी ही पार्टी के नेताओं से आलोचना का सामना करना पड़ रहा है. भाजपा के वरिष्ठ नेता सुब्रमण्यम स्वामी यूँ तो इसलिए जाने जाते हैं क्यूंकि वो गाहे बगाहे विवा’दित ब’यान दे ही देते है लेकिन इस बार उन्होंने जो बया’न दिया है वो उनकी पार्टी को रास नहीं आने वाला है.

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने ट्वीट कर अपनी ही पार्टी पर कटाक्ष किया है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, ‘गोवा और कश्मीर को देखने के बाद, मुझे लगता है कि अगर हम एक ही पार्टी के रूप में भाजपा के साथ रह गए तो देश का लोकतंत्र कमजोर हो जाएगा।’ अमर उजाला पर छपी खबर के अनुसार, उन्होंने इसका उपाय भी बताया और लिखा, ‘विपक्ष इटालियंस और उनकी संतान को पार्टी से हटने के लिए कहे। ममता इसके बाद एकजुट कांग्रेस की अध्यक्ष बनें। एनसीपी को भी कांग्रेस में विलय करना चाहिए।’

सुब्रमण्यम स्वामी का यह ब’यान ऐसे समय आया है जब कर्नाटक और गोवा में राजनीति चरम पर है। कर्नाटक में विधायकों के इस्तीफे के बाद सरकार पर अल्पमत में आने का संकट मडरा रहा है वहीं गोवा में कांग्रेस के 10 विधायकों ने पार्टी छोड़कर भाजपा में शामिल हो गए। माना जा रहा है कि यही ट्रेंड आने वाले दिनों में राजस्थान और मध्यप्रदेश में भी देखने को मिल सकता है।

इस बात को लेकर विपक्षी दल तो सवाल उठा रहे हैं लेकिन भाजपा नेता की ओर से आया ब’यान पार्टी के लिए मुश्किल खड़ी कर सकता है. हालाँकि स्वामी ने सोनिया गांधी और राहुल गांधी पर भी कटाक्ष किया है लेकिन उन्होंने जो मुद्दा उठाया वो मुद्दा भाजपा के लिए मुश्किल खड़ी हो सकती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *