सावन में शिव जी का आशीर्वाद पाने के लिए किए जाते हैं ये खास पांच उपाय

these five tips are made to get the blessings of shiva in sawan

शिव की कृपा पाने के लिए सावन माह में गरीबों को भोजन कराने और दान देने के लिए भी कहा जाता है। ऐसी मान्यता है कि सावन में गरीबों की सेवा करने से शिव जी प्रसन्न होते हैं। lessings of shiva in sawan

सावन का महीना प्रारंभ हो चुका है। हिंदू धर्म में इसे बड़ा शुभ महीना माना जाता है। मान्यता है कि सावन भगवान शिव को समर्पित है। कहा जाता है कि सावन में शिव की पूजा करने से वे बड़ी जल्दी प्रसन्न हो जाते हैं। और अपने भक्त की मनोकामनाओं को पूरा करते हैं। इस बीच शिव जी को प्रसन्न करने के लिए और उनका आशीर्वाद पाने के लिए सावन माह में कुछ खास उपाय भी किए जाते हैं। आज हम आपको ऐसे ही पांच उपायों के बारे में बता रहे हैं।lessings of shiva in sawan

1. सावन माह में घर पर शिवलिंग स्थापित करना बड़ा ही शुभ माना जाता है। कहते हैं कि यदि घर पर स्फटिक का शिवलिंग स्थापित किया जाए तो इससे धन और यश की प्राप्ति होती है। कहा जाता है कि शिवलिंग स्थापित करने से पहले उसे गंगाजल से पवित्र कर देना चाहिए।

2. सावन में शिव जी का जलाभिषेक करने का विशेष लाभ बताया गया है। कहते हैं कि सच्चे मन से सावन में प्रतिदिन शिवलिंग का जलाभिषेक किया जाए तो इसका विशेष लाभ प्राप्त होता है। मान्यता है कि जलाभिषेक करने से मनोकामनाएं पूरी होती हैं। lessings of shiva in sawan

3. शिव मंत्र “ऊं नम: शिवाय” का जाप सावन माह में बहुत ही फलदायी बताया गया है। इसके लिए प्रतिदिन सुबह जल्दी ऊठकर स्नान करने के बाद इस मंत्र का जाप करना चाहिए। माना जाता है कि सावन में इस मंत्र की जाप करने से शिव का आशीर्वाद प्राप्त होता है। lessings of shiva in sawan

4. शिव की कृपा पाने के लिए सावन माह में गरीबों को भोजन कराने और दान देने के लिए भी कहा जाता है। ऐसी मान्यता है कि सावन में गरीबों की सेवा करने से शिव जी प्रसन्न होते हैं। और भक्त के जीवन में समृद्धि लाते हैं। lessings of shiva in sawan

5. सावन के पवित्र महीने में धार्मिक कार्यों में मन लगाने की सुझाव दिया जाता है। कहते हैं कि पूरे सावन धार्मिक कार्यों में डूबा रहना चाहिए। इससे शिव जी प्रसन्न होते हैं और अपनी कृपा बरसाते हैं।lessings of shiva in sawan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *