सौभाग्य को दुर्भाग्य में बदलते हैं ये 5 काम, सोमवार के दिन इन्हें भूलकर भी ना करे

भाग्य एक ऐसी चीज हैं जो सबको अच्छा लगता हैं. मतलबी जब लक 24 घंटे आपके साथ हो तो लाइफ में टेंशन बहुत कम हो जाती हैं. इसलिए हर कोई भगवान से यही प्रार्थना करता हैं कि उनके ऊपर भाग्य का साया हमेशा बरकरार रहे. लेकिन एक बात आप कान खोलकर सुन ले. यदि ऊपर वाला आपको भाग्य देता हैं तो बदले में छीन भी सकता हैं. फिर आपके पास दुर्भाग्य के अतिरिक्त कुछ भी शेष नहीं रह जाएगा. अब ऐसा इश्वर इसलिए करते हैं क्योंकि आप से कुछ बड़ी या छोटी गलती हो सकती हैं. ये गलती किसी भी टाइप की हो सकती हैं. मसलन यदि आप सोमवार के दिन कुछ ख़ास तरह के काम करते हैं तो भोलेनाथ नाराज़ हो सकते हैं. बताने की जरूरत नहीं हैं कि सोमवार का दिन शिवजी का ही होता हैं. इस दिन आपके भाग्य के वही जिम्मेदार होते हैं. हालाँकि यदि आप किसी का दिल दुखाते हैं या कोई गलत काम करते हैं तो वो अपना आशीर्वाद आपके ऊपर से हटा देते हैं. फिर उस स्थिति में आप भाग्य के बिना ही रह जाते हैं. इसलिए हमारी बात माने तो सोमवार को भूलकर भी ये गलतियाँ ना करे.

1. सोमवार के दिन कभी भी अपने माता पिता का दिल ना दुखाए. वैसे तो आपको बाकी दिनों में भी इस नियम का पालन करना चाहिए लेकिन यदि आप सोमवार के दिन यानी की भोलेनाथ के दिन ये काम करते हैं तो आपके पीछे दुर्भाग्य हाथ धोकर पड़ जाता हैं.

2. सोमवार को भूलकर भी अपने द्वार पर आए भिखारी को खाली हाथ ना जाने दे. यदि वो आपको जाते जाते कोई बददुआ देता हैं तो आपकी दुर्गति शुरू हो जाएगी. फिर आपकी लाइफ में सभी कुछ बेकार ही बेकार चीजें होंगी.

3. सोमवार कभी किसी जनवरी को चोट ना पहुंचाए. शिवजी को जानवरों से काफी लगाव हैं. ऐसे में यदि आप सोमवार के दिन किसी जानवर के साथ कुछ भी गलत काम करते हैं तो आपके पीछे पनौती लग सकती हैं. इसमें नॉनवेज ना खाना भी शामिल हैं.

4. कहते हैं सोमवार के दिन किसी से झूठ बोलना या किसी को धोखा देना भी पाप की श्रेणी में आता हैं. ऐसा करने से आपको बाद में कोई बड़ा नुकसान झेलना पड़ता हैं.

5. सोमवार को किसी की पीठ पीछे बुराई भी नहीं करना चाहिए. इससे आपकी समाज में इमेज बुरी बनती हैं.

तो ये थे वो 5 काम जिन्हें आप को सोमवार के दिन नहीं करने चाहिए. यदि आप से इन्हें करने की भूल हो जाती हैं तो शिवजी नाराज़ हो सकते हैं और आपका भाग्य दुर्भाग्य में बदल सकता हैं. अब बाय चांस कोई गलती हो जाए तो उसका प्रायश्चित्त भी आपको करना पड़ेगा. इसके लिए आप शिव मंदिर में दूध, शहद, केसर और पानी मिलकर शिवलिंग का अभिषेक करे. इसके साथ ही भगवान से हाथ जोड़ अपनी गलती की माफ़ी मांगे. ध्यान रहे कि आप दोबारा ये गलती ना करे.

दोस्तों हमें उम्मीद हैं कि आपको हमारा ये आर्टिकल बड़ा पसंद आया होगा. कृपया इसे दूसरों के साथ साझा जरूर करे. इससे बाकियों को भी लाभ मिलेगा और वे खुश रहेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *