जब करीना कपूर के इस्लाम कबूल न करने पर सैफ अली खान ने कही थी ये बात…

नई दिल्ली: नवाब मंसूर अली खान पटौदी के बेटे और एक्टर सैफ अली खान (Saif Ali Khan) की पहली पत्नी अमृता और दूसरी करीना कपूर खान (Kareena Kapoor Khan) ने शादी के बाद इस्लाम नहीं अपनाया। इसे लेकर सैफ अली खान ने कहा था कि…
भारतीय क्रिकेट टीम के कैप्टन रहे नवाब मंसूर अली खान पटौदी (Nawab Mansoor Ali Khan Pataudi) से शादी के बाद एक्ट्रेस शर्मीला टैगोर (Sharmila Tagore) ने इस्लाम धर्म अपना लिया था और अपना नाम भी बदल लिया था। लेकिन उनके बेटे सैफ अली खान (Saif Ali Khan) की पहली पत्नी अमृता और दूसरी करीना कपूर खान (Kareena Kapoor Khan) ने शादी के बाद इस्लाम नहीं अपनाया। इसे लेकर सैफ अली खान ने कहा था कि…

इस्लाम अपनाने पर जोर नहीं

सैफ अली खान से एक इंटरव्यू में शादी के बाद करीना कपूर के इस्लाम न अपनाने को लेकर सवाल पूछा गया था। जिसका जबाव देते हुए सैफ ने कहा था कि उनकी मां ने स्वेच्छा से इस्लाम में अपनी रुचि दिखाई थी और अपना नाम भी बदल कर आयेशा बेगम रख लिया था। लेकिन पहली पत्नी अमृता ने इस्लाम नहीं अपनाया था और न ही उन पर इस्लाम अपनाने का जोर दिया गया था।

धर्म एक आंतरिक मामला है

सैफ का कहना था कि उनके घर में धर्म को लेकर कभी कोई बंदिश नहीं रही है। इसलिए करीना को जो पंसद था उन्होंने वहीं किया। करीना ने इस्लान नहीं अपनाया, लेकिन उनके सरनेम को अपने नाम के साथ जोड़ा है। सैफ का कहना था कि वैसे भी धर्म एक आंतरिक मामला है और ये इंसान पर ही छोड़ देना चाहिए।

बच्चों पर कभी कोई धर्म नहीं थोपा

जब सारा और इब्राहिम पैदा हुए तो भी हमने उनपर कभी कोई धर्म नहीं थोपा और सभी धर्मों का सम्मान करना सिखाया। जब सारा और इब्राहिम छोटे थे, और अमृता मत्था टेकने गुरूद्वारे जाती थीं तो, वो उनका ख्याल रखते थे। वहीं, हमारे तलाक के बाद अमृता ने भी धर्म के मामले में बच्चों को प्रभावित नहीं होने दिया।

Saif Ali Khan Kareena Kapur

अमृता भी शादी के बाद इस्लाम नहीं अपनाना चाहती थीं और ना ही हमने उन्हें इसके लिए मजबूर किया। ऐसा ही करीना के साथ भी है। उनके या मेरे घर में इस बात को लेकर कभी कोई चर्चा नहीं होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *