झुलसने की वजह से काटने पड़ेंगे लड़की के हाथ और पैर, मंगेतर बोला- करूंगा शादी, और जीवन भर !

ऐसा कहा जाता है कि शादी

के सात फेरे दो व्यक्तियों को 7 जन्मों तक बांध देता है. ये कोई फिल्मी बात नहीं बल्कि सच है, जीवन में में कितने भी धूप-छांव आए, सुख-दुख आए पति-पत्नी एक दूसरे का साथ देकर ही अपना जीवन बिता देते हैं. मगर यहां जो खबर हम आपको बताने जा रहे हैं वो बिल्कुल अलग है.

आपको जो हम बताएंगे तो आपको लगेगा ऐसी चीजें फिल्मों में होती है आमतौर पर नहीं होता है लेकिन सच कुछ और ही है. झुलसने की वजह से काटने पड़ेंगे लड़की के हाथ और पैर, इसके आगे की कहानी चलिए आपको बताते हैं.

without legs girl married news

झुलसने की वजह से काटने

पड़ेंगे लड़की के हाथ और पैर, ये कहानी है हीरल नाम की एक लड़की और चिराग नाम के एक लड़के की जिन्होने बता दिया है कि प्यार इंसान को बहुत अच्छा भी बना सकता है और बुरा भी बना सकता है. जामनगर के लालपुर में डबास की रहने वाली हीरल की मंगनी 28 मार्च को हुई थी. हीरल की मंगनी समाज के रीति रिवाज के साथ जमानगर में रहने वाले 22 साल के चिराग गज्जर नामक युवक से हुई थी. इसी बीच एक हादसा हो गया. 11 मई को हीरल कपड़े सुखाने खिड़की के पास पहुंची तो इसी दौरान उसके हाथ पर ही हाईटेंशन तार गिर गया और उसका हाथ वहीं जल गया. हीरल के पैर में भी करंट लगा, जिससे वह गंभीर रूप से झुलस गई. हीरल को तुरंत पास के जीजी हॉस्पिटल में ले जाया गया और वहां पर उसका इलाज हुआ. परिवार वालों को लगा कि अस्पताल वाले उनसे कुछ छिपा रहे हैं, बार-बार पूछने पर कहा जाता था कि रिपोर्ट अच्छी आ रही है,

without legs girl married news

सबकुछ ठीक हो जाएगा.

चार दिन बाद डॉक्टर्स ने हाथ खड़े कर दिए और उन्होंने हीरल को अहमदाबाद के सिविल अस्पताल में रिफर कर दिया.वहां पर डॉक्टर्स ने कहा कि हीरल का दायां हाथ और दोनों पैर के घुटने काटने पड़ेंगे. अगर दुर्घटना के 48 घंटे बाद ही यहां लाए होते तो स्थिति दूसरी होती.

इस बारे में मीडिया को हीरल के मंगेतर चिराग ने बताया. जब हीरल के माता-पिता को पता चला कि हीरल का एक हाथ और दोनों पैर काटने होंगे तो उनपर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा. अब बेटी का जिंदगीभर का बोझ कौन उठाएगा? क्या उसका मंगेतर अब उससे शादी करेगा? हीरल की जिंदगी कैसे कटेगी ? इन सभी सवालों के साथ हीरल के मां-बाप घिर गए. जब चिराग अस्पताल आया और उन्हें परेशान देखा तो उसने कहा कि वो सादी करेगा. चिराग के फैसले का समर्थन उसके माता-पिता ने भी किया. हीरल को तत्काल जामनगर के अस्पताल में भर्ती कराया गया लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ इसके बाद वहां से हीरल को अहमदाबाद के सिविल अस्पताल में रेफर कर दिया गया. वहां डॉक्टरों ने कहा कि हीरल का दायां हाथ और दोनों पैर काटने पड़ेंगे.

Marriage

हीरल ने मीडिया को बताई आपबीति

इसके बाद हीरल की जान बचाने के लिए आपरेशन कर घुटने तक उसका पैर काट दिया गया. फिलहाल हीरल खतरे से बाहर हैं. हीरल के माता-पिता ने चिराग को दूसरी लड़की से शादी करने के लिए कहा, लेकिन चिराग ने मना कर दिया. चिराग ने कहा कि यह हादसा उसके साथ भी हो सकता था. उसने कहा वह हीरल के साथ ही अपना जीवन बिताएगा. हीरल और चिराग की यह कहानी सोशल मीडिया पर छाई हुई है. अहमदाबाद में रहने वाले हीरल और चिराग के सभी रिश्तेदार हॉस्पिटल पहुंच रहे हैं और हर तरह की मदद कर रहे हैं. लोग चिराग की प्रशंसा कर रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *