दिल्ली बुलाए गए योगी आदित्यनाथ, चुनाव से पहले UP में सीएम…

सियासी उठापठक के बीच गुरुवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दो दिनों के लिए दिल्ली रवाना हो गए हैं। आज दोपहर 3:30 बजे वह राजधानी पहुंच जाएंगे। इसके बाद शाम 4 बजे के गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात करेंगे। इसके बाद BJP के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा से मिलेंगे। कल सुबह 11 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी मुलाकात होगी।

पूर्व केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद के BJP जॉइन करने के तुरंत बाद योगी के दिल्ली जाने से राजनीतिक गलियारों में कई तरह की चर्चाएं शुरू हो गई हैं। बताया जाता है कि योगी मोदी, शाह और नड्‌डा से मिलकर मंत्रिमंडल के विस्तार और अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर चर्चा कर सकते हैं।

मोदी-शाह तक पहुंच चुकी है यूपी की रिपोर्ट

कुछ दिनों पहले ही भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री (संगठन) बीएल संतोष और प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह ने उत्तर प्रदेश में संगठन और सरकार के कामकाज का जायजा लिया था। कई मंत्रियों से मुलाकात करके उनकी नाराजगी जानी थी। संगठन से जुड़े नेताओं और कार्यकर्ताओं से भी मुलाकात की थी। इसके बाद उन्होंने इसकी पूरी रिपोर्ट 5 और 6 जून को दिल्ली में हुई बैठक में राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा से शेयर की थी। फिर नड्‌डा और बीएल संतोष इस रिपोर्ट को लेकर पीएम मोदी के पास पहुंचे थे। उन्हें पूरी रिपोर्ट सौंपी जा चुकी है।

पीएम मोदी से मिलने का एजेंडा

कोरोना महामारी के सेकंड वेव में कैसे हालात रहे और सरकार ने कैसे कम समय में इन हालात पर काबू पाया? थर्ड वेव के लिए यूपी में कैसी तैयारी है? कैसे हेल्थ सेक्टर में काम किया है? बच्चों को लेकर सरकार ने अस्पतालों में क्या व्यवस्था की है? पोस्ट कोविड के लिए सरकार की रणनीति और तैयारियों की रिपोर्ट पेश करेंगे सीएम योगी। वैक्सीनेशन ड्राइव को लेकर भी जानकारी देंगे। यूपी में 2022 में चुनाव है उससे पहले यूपी को कोरोना फ्री करने की बड़ी चुनौती सरकार के पास है। इसको लेकर भी प्रधानमंत्री से चर्चा संभव है।

जल्द हो सकता है कैबिनेट का विस्तार

सीएम योगी के दिल्ली पहुंचते ही एक बार फिर से यूपी में कैबिनेट विस्तार को लेकर सियासी गलियारों में चर्चाएं तेज हो गई हैं। बताया जाता है कि योगी के यूपी आने के बाद इसका ऐलान हो सकता है। सरकार में कई नए चेहरों को जगह मिल सकती है। इसके अलावा कुछ लोगों को संगठन में भी जिम्मेदारी दी जाएगी। तमाम निगम, आयोग और बोर्ड के पदों को भी भरे जाने हैं।

20 दिन में UP से मिले 5 बड़े संकेत

जल्द ही उत्तर प्रदेश सरकार का विस्तार हो सकता है। नए चेहरों को मंत्रिमंडल में जगह मिल सकती है। सरकार के नाराज विधायकों को संगठन में बड़ा पद और मंत्रीमंडल में शामिल किया जा सकता है। BJP के चुनावी मैदान में उतरने से पहले RSS की एक टीम जनता के बीच जाएगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ही अगले साल होने वाले चुनाव में BJP का चेहरा होंगे। डिप्टी सीएम केशव मौर्य को भी बड़ी जिम्मेदारी मिल सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *