‘..तो बाबा आप मठ में घंटा बजा रहे होते’, जब भड़के अखिलेश यादव ने योगी आदित्यनाथ पर किया था करारा पलटवार

Yogi Adityanath Vs Akhilesh Yadav: योगी आदित्यनाथ और अखिलेश यादव दोनों के कई बार तीखी जुबानी जंग हो चुकी है। दोनों तरफ से एक दूसरे के ऊपर कई बार आरोप लगाए जा चुके हैं। अखिलेश यादव ने यूपी सीएम के लिए तो ये भी कह दिया था कि वह चिलम वाले मुख्यमंत्री हैं। अखिलेेश ने योगी पर एक बार जवाबी हमला करते हुए कहा था कि अगर संविधान ना होता तो आप मठ में घंटा बजा रहे होते। आइए जानें पूरा मामला:
सीएम बनने के बाद योगी आदित्यनाथ ने एक चुनावी सभा में समाजवादी पार्टी और अखिलेश यादव पर तंज कसते हुए कहा था कि अगर संविधान ना होता तो कुछ लोग आज भी दूध ही बेच रहे होते।

2019 में अखिलेश यादव ने योगी आदित्यनाथ के इस बयान पर पलटवार करते हुए उन्हें चिलम वाला मुख्यमंत्री कह दिया था।

अखिलेश यादव ने तब कहा था- अगर संविधान ना हो तब भी हम दूध दही से काम चला लेंगे लेकिन आप मठ में जाकर घंटा बजा रहे होते।

अखिलेश यादव ने ये भी कहा था कि बाबा ने लैपटॉप इसलिए नहीं बांटा क्योंकि उन्हें लैपटॉप चलाना नहीं आता। ये चिलम वाले मुख्यमंत्री हैं।

अखिलेश यादव ने कहा था कि 2022 में जब वह दोबारा से यूपी के सीएम बनेंगे तो योगी आदित्यनाथ के घर की तब तक तलाशी करवाएंगे जब तक वहां से चिलम ना बरामद हो जाए।

बता दें कि 2022 के यूपी विधानसभा चुनाव में बीजेपी और अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी में सीधी टक्कर बताई जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *