सामने आया ज़ोमै’टो वाला वाला मुस्लि’म लड़का, अमित शुक्ल की ‘सो’च’ पर दिया ये ब’यान

इस समय खाना सप्लाई करने वाली कम्पनी ज़ोमैटो सुर्ख़ि’यों में है. इसकी वजह है कि इसने अपने उस ग्राहक को जो ध’र्म की वजह से डि’लीवरी बॉय बद’लने की माँग कर रहा था उसकी माँग नहीं मानी थी. इतना ही नहीं कम्पनी ने ज़’बरदस्त ढंग से उसे जवाब भी दिया था.अमित शुक्ल नामक एक युवक ने सिर्फ इस वजह से खाना लेने से म’ना कर दिया क्योकि वह खाना उस तक पहुँचाने वाला एक मु स्लिम युवक था. लिहाजा अमित शुक्ल ने फ़याज़ से खाने का पार्स’ल लेने से इंका र दिया.

जिसके वाद ऑनलाइन फ़ूड डिलीवरी करने वाली कंपनी जोमाटो हर कत में आई कंपनी ने अमित शुक्ल की मुँह,तो’ड़ जवाब दिया. जिसके वाद इंडियन न्यूज़ नव भारत ने उस लड़के खबर को छापा जो अमित शुक्ल के पास खाना लेकर गया था. जो लड़का खाने की डिलीवरी करने गया था उसका नाम फ़ैयाज़ है.पत्रकारों बात करते हुए फ़ैयाज़ ने बताया की इन से उन्हें बहुत दुःख हुआ है लेकिन वह कुछ कर नहीं कर सकते फ़ैयाज़ कहते है की वह गरीब भी है और लाचार भी है.

वह बताते की मेने ग्राहक को उसका पता कन्फर्म करने के लिए काल लगाया ग्राहक ने फ़ोन उठा कर ऑर्डर को यह कहते हुए कैंसिल किया की वह किसी मु स्लि,म द्वारा लाये हुए खाने को नहीं खाना चाहते. यह सुनकर फ़ैयाज़ को काफी दुःख हुआ. फ़ैयाज़ कहते है की सर में गरीब हूँ मैं क्या कर सकता हूँ.

जब अमित शुक्ल द्वारा अपने एक ट्वीट में कहा गया की राइडर हि’न्दू न होने की वजह से वह अपना अपना ऑर्डर कैंसिल कर रहे है तो उसका जवाब जोमाटो ने देते हुए कहा की की आप खाने में ध,र्म न खोजें क्योकि खाना खुद अपने आप में एक ध,र्म है. जिसके वाद जोमाटो के संस्थापक ने अपना ट्वीट करते हुए कहा की हम हमेशा अपने उसू,लों पर रहेंगे अगर इन उसू,लों के वजह से हमें कोई नुक्सान होता है तो हमें इसका कोई दुःख अफ,सोस नहीं होगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *