उत्तर प्रदेश का चुनाव जीतने के लिए बजपा ने मैदान मे उतारे अपने सैनापती

भारतीय जनता पार्टी ने नए तरीके से विपक्ष को कमजोर करने और उत्तर प्रदेश में चुनाव जीतने के लिए लामबंद करना शुरू कर दिया। इसके लिए भाजपा ने न केवल अपने कई महान सेनापतियों को उत्तर प्रदेश में तैनात किया, बल्कि स्टैंड स्तर पर हर कार्यकर्ता से संपर्क स्थापित करने की योजना भी बनाई।

केंद्रीय पार्टी नेतृत्व का कहना है कि उन्हें न केवल स्टैंड स्तर पर मजबूत होना चाहिए, बल्कि अपना स्टैंड हासिल करने के लिए कोई कसर नहीं छोड़नी चाहिए।

अमित शाह, जेपी नड्डा और राजनाथ सिंह पर हमला

पार्टी नेतृत्व ने अपने तीन प्रमुख जनरलों को उत्तर प्रदेश के तीन क्षेत्रों में तैनात किया है। ये तीनों चीफ कमांडर बड़े आयोजनों में न केवल पिट स्तर पर कार्यकर्ताओं से संपर्क करेंगे, बल्कि उन्हें गड्ढों के स्तर पर जीतने की तमाम राजनीतिक सलाह भी देंगे, ताकि ज्यादा से ज्यादा कार्यकर्ता और लोग वोट डालने आएं. इसके लिए पार्टी नेतृत्व ने काशी और अवध क्षेत्र में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को जिम्मेदारी सौंपी है। गोरखपुर और कानपुर क्षेत्र में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा बूथ के जमीनी स्तर पर कार्यकर्ताओं से न सिर्फ बातचीत करेंगे बल्कि उन्हें आगे का रास्ता भी बताएंगे. पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और गृह मंत्री अमित शाह ने खुद ब्रज और पश्चिम की कमान संभाली है। भारतीय जनता पार्टी के शीर्ष नेता ने कहा कि न केवल उत्तर प्रदेश में बल्कि चार अन्य राज्यों में भी पार्टी सूक्ष्म स्तर पर इसी तरह से न केवल अपनी नीतियां बनाती है, बल्कि सभी प्रमुख नेताओं को लागू करने की योजना बनाती है. मैदान में।

सूक्ष्म प्रबंधन समितियों का भी गठन किया गया है

भारतीय जनता पार्टी ऐसे शक्तिशाली नेताओं को न केवल गड्ढों के स्तर पर कार्यकर्ताओं के लिए भेजती है, बल्कि उनकी प्रतिक्रिया के लिए सूक्ष्म प्रबंधन समितियों का भी गठन किया गया है। यह इस समिति की जिम्मेदारी होगी कि बैठक और प्रमुख आयोजनों के बाद, इन सभी कार्यकर्ताओं और स्टैंड प्रबंधकों से पूरी प्रतिक्रिया भाजपा आलाकमान को दी जाए। इसके बाद अगले निर्देश के अनुसार सुनियोजित तरीके से कार्य कराए जाएंगे। भाजपा नेताओं के मुताबिक कई महीनों से गड्ढा स्तर पर कार्यकर्ताओं के नए निर्देश के अनुसार जमीनी गतिविधियां भी जारी है.

उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी का कहना है कि अपने स्टैंड को जीतने की ललक शुरू से ही भारतीय जनता पार्टी के हर कार्यकर्ता में रही है. उनका कहना है कि जब केंद्रीय प्रबंधन और शीर्ष प्रबंधन को इस दिशा में मार्गदर्शन मिलता है, तो न केवल कार्यकर्ताओं का उत्साह बढ़ता है, बल्कि उनकी जिम्मेदारी भी बन जाती है। ऐसे में सभी बड़े नेताओं के बूथों पर कार्यकर्ताओं से संपर्क करने से न सिर्फ पार्टी मजबूत होगी, बल्कि हम हर बूथ पर जीत हासिल करेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *