शनिवार के दिन भूलकर भी नहीं करना चाहिए ये 7 काम, वरना शनिदेव के प्रकोप से कोई नहीं बचा सकता

ज्योतिष में शनि को न्यायधीश माना गया है. ग्रह ही व्यक्ति को उनके कर्मों का फल प्रदान करता है. जिन लोगों के कर्म बुरे होते हैं उनके लिए शनि अशुभ हो जाता है. शनि के अशुभ होने पर किसी भी काम में आसानी से सफलता नहीं मिलती. इतना ही नहीं ऐसा होने पर घर-परिवार में भी परेशानियां बढ़ जाती हैं. शनिवार का कारक शनि है और इस दिन विशेषरूप से कुछ कामों को करने से बचना चाहिए. अगर आप इस दिन ये काम करते हैं तो शनि अशुभ हो सकता है और दुष्परिणाम आपको झेलने पड़ सकते हैं. आज के इस पोस्ट में हम आपको कुछ ऐसे कामों के बारे में बताएंगे जिन्हें शनिवार के दिन करने से बचना चाहिए.

शनिवार के दिन नहीं करने चाहिए ये काम

* कभी भी शनिवार के दिन घर में लोहा या लोहे से बनी चीज नहीं लेकर आना चाहिए. ऐसा करनी से शनिदेव नाराज हो सकते हैं. इस दिन लोहे से बनी चीजों को दान करना शुभ माना गया है. यदि आपके पास लोहे की बनी कुछ उपयोगी वस्तुएं हैं तो उसे गरीबों में दान दे दें.

* गरीबों का अपमान करना तो वैसे ही गलत है लेकिन विशेषरूप से शनिवार के दिन ऐसा कतई न करें. दरअसल, गरीबों का प्रतिनिधित्व शनिदेव करते हैं ऐसे में यदि आप उनको परेशान करेंगे तो शनि आपके जीवन में भी परेशानियां बढ़ा सकते हैं.

* यदि आपको लग रहा है कि शनिदेव आपसे नाराज हैं और आप पर संकटों का पहाड़ टूट पड़ा है तो शनिदेव को मनाने के लिए शनिवार के दिन तेल का दान करें. लेकिन ध्यान रहे कि इस दिन तेल को घर में नहीं लाना है. अर्थात दान करना तो शुभ है लेकिन इस दिन कहीं और से या मार्केट से तेल खरीदकर लाना अशुभ.

* शनिवार के दिन किसी बाहरी व्यक्ति से जूते-चप्पल गलती से भी उपहार के रूप में स्वीकार ना करें. इसके विपरीत शनिवार को जूते-चप्पल का दान गरीबों को करने से शनि के दोष दूर हो सकते हैं. यदि आपके पास पुराने जूते-चप्पल हैं तो उसे शनिवार के दिन गरीबों को दान कर दें. संभव हो तो नए खरीदकर भी दान कर सकते हैं.

* शनिदेव को खुश करना चाहते हैं तो शनिवार के दिन पीपल के पेड़ की पूजा करें. जब पूजा हो जाए तो उसके बाद पेड़ की सात परिक्रमा यानी चक्कर लगाएं. शनि के प्रकोप से बचने का यह भी एक असरदार तरीका है.

* शनि के प्रकोप को दूर करने के लिए और शनिदेव को खुश करने के लिए आप शनिवार के दिन काले तिल का दान करें. शनिवार के दिन काले तिल को दान करना बेहद शुभ माना जाता है. हो सके तो किसी गरीब को दान करें.

* शनि के प्रकोप को दूर करने के लिए आप शनिवार के दिन हनुमान जी के मंदिर में सरसों के तेल का दीपक जला सकते हैं. इस दिन ऐसा करने से शनिदेव खुश हो जाते हैं और शनि के प्रकोप से आपको जल्द मुक्ति मिल जाती है.

दोस्तों, उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया होगा. पसंद आने पर लाइक और शेयर करना न भूलें.

Leave a Reply

Your email address will not be published.