गुजरात में 300 भाजपाइयों ने किया पार्टी छोड़ने का ऐलान, अब इस राजनीतिक दल में हुए शामिल…

गुजरात के नगर निगम और नगर पंचायत के चुनावों में पहली बार हिस्सा लेकर जीत दर्ज करने वाले आम आदमी पार्टी के हौसले अब राज्य में सत्ता हासिल करने के लिए बुलंद होते नजर आ रहे हैं। बताया जा रहा है कि आम आदमी पार्टी आप गुजरात में भारतीय जनता पार्टी पर हावी हो रही है।

दरअसल गुजरात को भारतीय जनता पार्टी का गढ़ माना जाता है। जहां कोई भी अन्य राजनीतिक दल अपने पैर जमा पानी में खास कामयाबी हासिल नहीं कर पाता है। लेकिन ऐसा पहली बार हुआ है कि कांग्रेस और अन्य विपक्षी दलों के अलावा आम आदमी पार्टी ने पहली बार गुजरात में बाजी मा’री है।

आपको बता दें कि गुजरात में हुए महानगर पालिका चुनाव में पहली बार 27 सीटें जीतने वाली आम आदमी पार्टी ने भाजपा की नीं’द उड़ा दी है। दरअसल आम आदमी पार्टी का प्रदर्शन चुनावों तक ही सीमित नहीं रहा। बल्कि वह भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं को भी अपने पाले में लेने के लिए काफी आकर्षित कर रहे हैं।

बताया जा रहा है कि बीते कुछ दिनों में सैकड़ों भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने कमल का साथ छोड़ कर झाड़ू का दामन थाम लिया है। जो कि आम आदमी पार्टी का चुनावी चिन्ह है। आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता योगेश जादवाणी ने इस पर प्रतिक्रिया दी है।

आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता योगेश जादवाणी का कहना है कि, भाजपा ने गंदी राजनीति की और उसके कार्यकर्ता अब हमारी स्वच्छ राजनीति से प्रभावित होकर हमसे जुड़ रहे हैं। उन्होंने दावा किया कि, दो दिनों में 200 से ज्यादा भाजपाई आम आदमी पार्टी में आए। हफ्तेभर में लगभग 300 भाजपा कार्यकर्ता आम आदमी पार्टी का दामन थाम चुके हैं। जादवाणी ने कहा कि, यह सिलसिला अभी जारी है।

आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता योगेश जादवाणी ने कहा कि, सूरत जिले में हमारी दमदार एंट्री हुई। यहां के लोग दिल्ली में केजरीवाल सरकार के काम की तारीफ करते हैं। और हमारी पार्टी भी यहां के लोगों की समस्याओं को आवाज देने में पीछे नहीं रही। यही वजह है कि, बड़ी संख्या में महिलाएं भी ‘आप’ पार्टी से जुड़ रही हैं। हमें लगता है कि, आने वाले दिनों में अन्य भाजपा नेता और पदाधिकारी भी हमसे जुड़ेंगे।”

गुजरात में आम आदमी पार्टी की बढ़ रही सक्रियता को देखते हुए ऐसा अंदाजा लगाया जा रहा है कि पार्टी राज्य में होने वाले अन्य चुनावों को लेकर भी जीत हासिल करने की कोशिश में जुट गई है। दरअसल भारतीय जनता पार्टी को गुजरात में हरा पाना किसी भी राजनीतिक दल के लिए आसान नहीं माना जाता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *