दुष्यंत चौटाला ने खोले पत्ते, सरकार बनाने में जुटी कांग्रेस ने मुख्यमंत्री पद के लिए..

महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनाव के नतीजे सामने आने के बाद अब भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस दोनों ही राज्यों में सरकार बनाने की कोशिशों में जुट गई है। आपको बता दें कि महाराष्ट्र और हरियाणा दोनों में ही भारतीय जनता पार्टी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। जहां महाराष्ट्र में शिवसेना और बीजेपी गठबंधन की सरकार बनाने जा रहे हैं।

वहीं हरियाणा में कांग्रेस का पलड़ा भारी है क्योंकि हरियाणा में किसी भी पार्टी को पूर्ण बहुमत नहीं मिला है। नतीजे सामने आने के बाद दोनों ही पार्टियां राज्य में सरकार बनाने के लिए एड़ी चोटी का जो’र लगा रही हैं। राजनीतिक सूत्रों की मानें तो हरियाणा में जननायक जनता पार्टी किं’ग मे’कर की भूमिका निभा सकती है।

गौरतलब है कि हरियाणा में बीजेपी को 40 कांग्रेस को 31 और बीजेपी को 10 सीटें मिली है वहीं निर्द’लीय उम्मीदवारों को 9 सीटें प्राप्त हुई है। अपनी सरकार बनाने के लिए कांग्रेस और भाजपा दोनों चौटाला से समर्थन कि उम्मीद कर रहे हैं। हालांकि भाजपा का फोकस निर्दलीय विधायकों कि तरफ ज्यादा है। ऐसे में कुछ कहा नहीं जा सकता कि हरियाणा में कौन सी पार्टी सरकार बनाएगी।

दुष्यंत चौटाला ने इस सियासी दं’ग’ल को लेकर अपने पत्ते खोले हैं। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर, राज्य में सरकार गठन की हलचल से पहले दिल्ली के लिए रवाना हुए हैं। यहां वह बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात करेंगे। शुक्रवार को मनोहर लाल खट्टर मुख्यमंत्री पद से इ’स्ती’फा देंगे, इसके बाद नई सरकार को बनाने के लिए प्रक्रिया शुरू होगी।

इस बीच भाजपा की ओर से विधायकों का समर्थन जटाने के लिए कोशिशें जारी हैं। अभी तक कुल 5 निर्दलीय विधायकों ने बीजेपी के समर्थन का ऐलान किया है। खबर सामने आ रही है कि हरियाणा में जहां कांग्रेस और जेजेपी मिलकर सरकार बनाने का दावा ठोक रहे हैं। वहीं देर रात भारतीय जनता पार्टी ने पांच निर्दलीय विधायकों के साथ बैठक की है। हरियाणा में बीजेपी के लिए गेम फिलहाल बि’गड़’ता हुआ दिख रहा है। वहीं कांग्रेस ने हर किसी को चौंकाया है और दूसरी सबसे बड़ी पार्टी बनी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *