India Hindi Newsक्राइमछत्तीसगढ़प्रशासनराष्ट्रीय

गढ़चिरौली मुठभेड़ पर सवाल; कुंजाम बोले- शादी में फायरिंग कर मार दिया गया निर्दोषों को

जगदलपुर.गढ़चिरौली में पिछले सप्ताह हुई पुलिस मुठभेड़ पर आदिवासी महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष मनीष कुंजाम ने प्रश्नचिह्न लगाए है। उन्होंने बंगलुरू से जारी बयान में कहा है कि गढ़चिरौली में निर्दोष युवाओं की जान लेकर पुलिस वाहवाही लूटने का प्रयास कर रही है। कुंजाम का आरोप है कि गढ़चिरौली के एक गांव में शादी समारोह था। पुलिस ने इस जगह को घेरकर गोलीबारी की, जिसमें बड़ी संख्या में लोग मारे गए हैं।

कुंजाम का कहना है कि ये संभव है कि समारोह में कुछ नक्सली पहुंचे होंगे, लेकिन यहां हर व्यक्ति नक्सली नहीं था। इलाके के कई निर्दोष इस गोलीबारी में मारे गए हैं। इस बारे में कुंजाम से बात की गई तो फोन पर एक सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि हो सकता है कि निर्दोषों को गोलियां मारकर उनके शव नदी में बहा दिए गए हों, घटना के बाद से लोग दहशत में हैं और कोई भी कुछ बोलने की स्थिति में नहीं है। मारे गए लोगों की शिनाख्त करने वाला भी नहीं है। यदि इतनी बड़ी संख्या में नक्सली मारे गए हैं तो फिर उनके हथियार कहां हैं। मनीष ने पूरे मामले की जांच स्वतंत्र एजेंसी से करवाने की मांग की है। पुलिस ने दावा किया था कि गढ़चिरौली के जंगलों में हुई मुठभेड़ में करीब 36 से ज्यादा नक्सली मारे गए हैं। इनमें से कई शव तो छत्तीसगढ़ की सीमा में इंद्रावती नदी से भी बरामद किए गए थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button