India Hindi News

13 साल के भारतीय बच्चे ने दुबई में बनाई सॉफ्टवेयर कंपनी, आप भी करें ऐसा…

नई दिल्ली. 13 साल के भारतीय बच्चे ने दुबई में सॉफ्टवेयर कंपनी खोलकर लोगों को हैरत में डाल दिया। कंपनी के मालिक आदित्यन राजेश ने 9 साल की उम्र में अपनी पहली मोबाइल एप्लीकेशन बनाई थी। 13 साल के आदित्यन राजेश केरल के रहने वाले हैं।
आदित्यन ने पांच साल की उम्र में ही कम्प्युटर पर काम करना शुरू कर दिया था। इसके चार साल बाद एक शौकिया तौर पर अपनी पहली मोबाइल एप्लीकेशन तैयार की। साथ ही वे ग्राहकों के लिए वेबसाइट और लोगो डिजाइन किया करते थे। अब चार साल बाद 13 साल की उम्र में उन्होंने दुबई में एक ट्रीनेट सोल्यूशन्स नामक सॉफ्टवेयर कंपनी बना ली है।

आदित्ययन के 3 दोस्त करते हैं कंपनी में काम

उन्होंने बताया, ”मेरा जन्म केरल के थिरुविल्ला में हुआ था और जब में पांच साल का था, उस समय मेरा परिवार दुबई में शिफ्ट हो गया था। मुझे पहली वेबसाइट मेरे पिता ने बीबीसी टाइपिंग दिखाई थी। यह वेबसाइट बच्चों और छात्रों को टाइपिंग सीखने के लिए थी।” ट्रीनेट कंपनी में कुल तीन कर्मचारी हैं, जो कि आदित्यन के दोस्त और स्टूडेंट हैं। आदित्यन ने बताया, ”कानूनी तौर पर कंपनी का मालिक बनने के लिए अभी मुझे 18 साल की उम्र पूरी करनी होगी। इसके बाद ही मैं कंपनी के मालिक के तौर पर काम करना शुरू कर सकूंगा। हम अभी 12 से अधिक ग्राहकों के लिए काम कर रहे हैं और हम उन्हें अपनी डिजाइन और कोडिंग सर्विस फ्री में उपलब्ध कराते हैं।”

तकनीक का नन्हा जादूगर :

आदित्यन राजेश ने अपनी पहली मोबाइल एप्लिकेशन उस समय बनाई थी, जब वह सिर्फ नौ साल का था। उसने एप्लिकेशन बनाने का काम अपनी ऊब मिटाने के लिए शौक के रूप में शुरू किया था। वह अपने ग्राहकों के लिए लोगो (प्रतीक चिह्न) और वेबसाइट भी बनाता रहा है।‘खलीज टाइम्स’ अखबार ने एक रिपोर्ट में बताया कि आदित्यन ने पांच साल की उम्र में ही कंप्यूटर का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया था। अब 13 साल की उम्र में उसने अपनी ‘ट्रिनेट सॉल्यूशंस’ कंपनी की शुरूआत की है। इस कंपनी में फिलहाल कुल तीन कर्मचारी हैं जो आदित्य के स्कूल के मित्र और छात्र हैं।

केरल का प्रतिभाशाली पुत्र :

आदित्यन का ताल्लुक केरल से है। अखबार ने आदित्य के हवाले से बताया कि उसका जन्म केरल के तिरुविला में हुआ था। आदित्यन ने कहा, मैं पांच साल का था तब मेरा परिवार दुबई आ गया। पहली बार मेरे पिता ने मुझे बीबीसी टाइपिंग दिखाई थी। यह बच्चों के लिए एक वेबसाइट है जहां छोटी उम्र के छात्र टाइपिंग सीख सकते हैं। आदित्यन ने कहा, मुझे वास्तव में एक स्थापित कंपनी का मालिक बनने के लिए 18 साल से अधिक उम्र का होने तक इंतजार करना पड़ेगा। हालांकि हम एक कंपनी की तरह ही काम करते हैं। हमने 12 से अधिक ग्राहकों के साथ काम किया है और उन्हें बिल्कुल मुफ्त वे डिजाइन और कोड सेवाएं दी हैं, जिन्हें हमने खुद तैयार किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button