राजपाल यादव तीन महीने की सजा काटकर जेल से बाहर आते ही बयां किया अपना दर्द, सुनकर आपके होश उड़ जायेंगे…

हेलो दोस्तों आज हम बात करने जा रहे हैं बॉलीवुड के जाने माने कलाकार राजपाल यादव के बारे में। जैसा कि आप सभी जानते ही हैं कि पिछले 3 महीने से राजपाल यादव जेल की सजा काट रहे थे। लेकिन 3 महीने के बाद अब वह जेल से रिहा हो चुके हैं और जेल से निकलते ही उन्होंने बयान किया अपना दर्द ।उन्होंने कहा कि “मुझे लगता है कि मैंने लोगों पर कुछ ज्यादा ही विश्वास कर लिया और लोगों ने उस विश्वास का फायदा उठाया ।हालांकि अब मैं इस बारे में कोई बात नहीं करना चाहता ,मैं बस जिंदगी में आगे बढ़ना चाहता हूं क्योंकि अभी जिंदगी से मुझे बहुत कुछ मिलना बाकी है”.

कला को मंच की जरूरत नहीं होती है वह कहीं भी फल फूल सकती है और इस बात को साबित किया राजपाल यादव ने। राजपाल यादव ने ना सिर्फ जेल के कैदियों का मनोरंजन किया बल्कि अपनी आने वाली फिल्म के मुख्य किरदार में खुद को ढालने की कोशिश और तैयारी भी कर ली. एक केस के सिलसिले में सजा काट रहे राजपाल यादव बीते दिनों तिहाड़ जेल से बाहर आ गया। राजपाल यादव के जेल से बाहर आते ही उनके गुरु और उनके प्रशंसकों ने उनको गले से लगा लिया.

google

दरअसल पूरा मामला यह है कि एक्टर राजपाल यादव ₹50000000 की धोखाधड़ी के मामले में दिल्ली की एक अदालत ने उन्हें दोषी करार दिया था। कोर्ट में उनकी कंपनी और उनकी पत्नी के साथ साथ उन्हें भी दोषी करार ठहरा या गया था। जेल से रिहा होने के बाद राजपाल यादव ने मीडिया से बातचीत के दौरान बताया कि मैं जल्द ही टाइम्स टू डांस नाम की आने वाली फिल्म में नजर आऊंगा. फिल्म की शूटिंग विदेशों में हुई है अब बस कुछ हिस्से की शूटिंग बाकी रह गई है जिसे मैं जल्द ही पूरा करने की कोशिश करूंगा.

फिल्म की शूटिंग तो बहुत पहले ही पूरी हो जाती लेकिन मैं निर्माता और निर्देशको का आभारी हूं कि उन्होंने मुझे बाहर आने तक की मोहलत दी और मेरा इंतेज़ार किया। राजपाल यादव ने कहा कि इस फिल्म के अलावा मैं जाको राखे साइयां नाम की एक फिल्म की शूटिंग को भी जल्द ही खत्म करने वाला हूं. मेरी बात डेविड धवन और प्रियदर्शन से भी चल रही है मैं फिल्म के सेट पर जाने के लिए बेताब हूं.

google

राजपाल यादव ने कहा कि मुझे लगता है कि कानून सबके लिए बराबर है और मैं समझता हूं देश का कानून बिल्कुल सही है इसीलिए मैंने कोर्ट के आदेश का पालन किया मुझे लगता है कि कुछ लोगों ने मेरे विश्वास का गलत फायदा उठाया है. राजपाल यादव ने अपनी फिल्म अता पता लापता के लिए एक बिजनेसमैन से ₹50000000 उधार लिए थे लेकिन उन्होंने पैसे चुकाने में देर कर दी जिसके कारण उस बिजनेसमैन ने उन पर केस कर दिया। खबरों की मानें तो राजपाल यादव और उनकी पत्नी को चेक बाउंस मामले में दोषी पाया गया। जिसके कारण राजपाल यादव को 3 महीना तिहाड़ जेल में गुजारना पड़ा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *